logo1 logo2
Tirthnkar_Mother_dream
tirthnkar_detail-2

एलाचार्य श्री १०८ अतिवीर सागर जी महाराज

पूज्य एलाचार्य श्री का जन्म भारतवर्ष की राजधानी दिल्ली के दिल चाँदनी चौक के धर्मपुरा क्षेत्र में एक सुप्रतिष्ठित परिवार में हुआ| आप बाल्यकाल से ही साहसी, दृढ निश्चयी एवं लगनशील है| आप सहृदयी, सरल स्वभावी, उदारचित एवं आकर्षक व्यक्तित्व के धनि है| कहते है कि किसी महापुरुष के जन्म लेने से पहले ही संकेत मिल जाते हैं| इनके जन्म के साथ ही लम्बे समय से चल रहा भारत-पाकिस्तान युद्ध समाप्त हो गया एवं चारों ओर ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी|


संक्षिप्त परिचय

जन्म: २३ सितम्बर १९६५
जन्म स्थान : धर्मपुरा, चांदनी चौक (दिल्ली)
जन्म का नाम श्री नीरज जैन
माता का नाम : स्व. श्रीमती समुंदरी देवी जैन
पिता का नाम : स्व. श्री कैलाश चंद जैन
लौकिक शिक्षा : बी. कॉम.
धार्मिक शिक्षा : मथुरा चौरासी, जबलपुर एवं इंदौर के आश्रमों में जैन शास्त्रों का गहन अध्ययन किया| अन्य धर्मों के पवित्र ग्रन्थ जैसे कुरान, गुरु-ग्रन्थ साहिब, गीता आदि का भी दत्तचित होकर अध्ययन किया|
वैराग्य भावना : नवम्बर 1991, सोनागिर जी में
आजीवन बाल ब्रह्मचर्य व्रत : 28 अगस्त 1996, महुआ जी में
गृह त्याग : 6 नवम्बर 2002, लखनऊ (उ.प्र.) में
मुनि दीक्षा : 11 अप्रैल 2006 (महावीर जयंती) को दोपहर 1.11 बजे
मुनि दीक्षा का स्थान : त्रिलोक तीर्थ धाम, बड़ागांव (उ.प्र.)
मुनि दीक्षा गुरु : आचार्य श्री 108 विद्याभूषण सन्मति सागर जी महाराज
एलाचार्य पद : 4 अक्टूबर 2009 (शरद पूर्णिमा)
एलाचार्य पद स्थान: सी.बी.डी. ग्राउंड, ऋषभ विहार (दिल्ली)
एलाचार्य पद गुर: आचार्य श्री 108 विद्याभूषण सन्मति सागर जी महाराज
आचार्य पद : १९८८ महावीर जयंती के दिन
Website: http://www.shriativeer.blogspot.in/p/blog-page_21.html




आचार्य श्री १०८ शांति सागर जी महाराज (छाणी)
आचार्य श्री १०८ सूर्य सागर जी महाराज
आचार्य श्री १०८ विजय सागर जी महाराज
आचार्य श्री १०८ विमल सागर जी महाराज (भिंड वाले)
आचार्य श्री १०८ सुमति सागर जी महाराज
आचार्य श्री विद्याभूषण सन्मति सागर जी