logo1 logo2
Tirthnkar_Mother_dream
tirthnkar_detail-2

आचार्य श्री १०८ ज्ञानभूषण जी महाराज

संक्षिप्त परिचय

जन्म: १/११/१९६२
जन्म स्थान : चांदनी चोक दिल्ली
जन्म का नाम अरुण कुमार जैन
माता का नाम : श्रीमती समंदरी देवी जैन
पिता का नाम : श्री सुखवीर सिंह जैन
क्षुल्लक दीक्षा : २८ -०१ -१९९३
दीक्षा का स्थान : नौगाँव जिला- अलवर (राजस्थान )
क्षुल्लक दीक्षा गुरु : आचार्य श्री १०८ शांतिसागर जी महाराज (हस्तिनापुर वाले)
मुनि दीक्षा : ०८ -०६ -१९९७
मुनि दीक्षा का स्थान : मुज़फ्फर नगर (उत्तर प्रदेश )
मुनि दीक्षा गुरु : आचार्य १०८ श्री धर्म भूषण जी महाराज
आचार्य पद : ०४-०४-२००४
आचार्य पद का स्थान : फिरोजपुर जिला : गुडगाँव (हरयाणा )
आचार्य पद प्रदाता : आचार्य श्री चन्द्रसागर जी



 


आचार्य श्री १०८ शांति सागर जी महाराज (छाणी)
आचार्य श्री १०८ सूर्य सागर जी महाराज
आचार्य श्री १०८ विजय सागर जी महाराज
आचार्य श्री १०८ विमल सागर जी महाराज (भिंड वाले)
आचार्य श्री १०८ निर्मलसागर जी महाराज
आचार्य श्री १०८ जयसागर जी महाराज
आचार्य श्री १०८ शांतिसागर जी महाराज (हस्तिनापुर वाले)
आचार्य १०८ श्री धर्म भूषण जी महाराज
आचार्य श्री १०८ ज्ञानभूषण जी महाराज

Aacharya Shri 108 Dhrambhushan Sagar ji


Brief Introduction

Birth :
01-11-1962
Birth Place: 
Dariba Kalan , Chandni Chowk, Delhi,
Birth Name :
Arun Kumar Jain
Mothers Name :
Smt Samandri Devi Jain
Father’s Name :
Shri Sukhvir Singh Jain
Ksullak Diksha :
28-01-1993
Place of Kshullak Diksha :
Naugaon Distt. Alwar (Rajsthan)
Kshullak Diksha Guru:
Acharya Shree Shantisagar Ji (Hastinapur wale)
Muni Diksha :
08-06-1997
Place of Muni Diksha :
Muzaffar Nagar (Uttar Pradesh)
Diksha Guru :
Achaya Shree Dharambhushan Ji
Acharya Pada:
04-04-2004
Place of Acharya Pada:
Firozpur-Zirka Distt: Gurgaon (Haryana)
Aacharya Pad Pradata :
Acharya Shree Chandrasagar Ji

Aacharya Shri 108 Shantisagar Ji Maharaj (Uttar)
Aacharya Shri 108 Surya Sagar Ji Maharaj
Aacharya Shri 108 Vijay Sagar Ji Maharaj
aacharya Shri 108 Nirmal Sagar Ji Maharaj
Aacharay Shri 108 Jai Sagar Ji Maharaj
Aacharya Shri 108 Shanti Sagar ji Maharaj(Hastinapur)
Aacharya Shri 108 Dhrambhushan Sagar Ji Maharaj
Aacharya Shri 108 Gyanbhushan Sagar Ji Maharaj