आचार्य श्री सुमति सागर जी


संक्षिप्त परिचय

जन्म: विक्रम संवत १९७४ (२० नवम्बर १९१७) असोज शुक्ल ४
जन्म स्थान : ग्राम श्याम पुरा जिला मुरेना (म.प्र.)
जन्म का नाम श्री नत्थी लाल जैन
माता का नाम : श्रीमती चिरोंजादेवी जैन
पिता का नाम : श्री छिददु लाल जैन
ऐलक दीक्षा : विक्रम संवत २०२५ (सन १९६८) चैत्र शुक्ल १३
दीक्षा का स्थान : रेवाड़ी, हरियाणा
मुनि दीक्षा : विक्रम संवत २०२५ अगहन वदी १२ सन १९६८
मुनि दीक्षा का स्थान : गाजियाबाद (उ.प्र.)
मुनि दीक्षा गुरु : आचार्य श्री १०८ विमल सागर जी महाराज (भिंड वाले)
आचार्य पद : ज्येष्ठ सुदी ५ विक्रम संवत २०३० १३ -४-१९७३
आचार्य पद का स्थान : मुरेना (म.प्र.)
समाधि मरण : क्वार वदी १३ संवत २०५१ (३-१०-१९९४ )
समाधी स्थल : सोनागिर

आचार्य श्री शांति सागर जी महाराज (छणी) परंपरा के पांचवे आचार्य श्री सुमति सागर जी का जन्म विक्रम संवत १९७४ (सन १९१७) असोज शुक्ल ४ को ग्राम श्याम पुर जिला मुरेना (म.प्र.)में हुआ था ।आपने ऐलाक दीक्षा विक्रम संवत २०२५ (सन १९६८) चैत्र शुक्ल १३ रेवाड़ी हरियाणा में ली एवं मुनि दीक्षा विक्रम संवत २०२५ अगहन वदी १२ सन १९६८ में गाजियाबाद (उ.प्र.) में ग्रहण करी । आचार्य सुमति सागर जी कठोर तपस्वी और आर्षमार्गानुयायी थे।आप्नेअनेक कष्टों और आपदायों को सहने के बाद दिग. दीक्षा धारण करी।आपके जीवन में अनेक उपसर्ग और चमत्कार हुए। पं. मक्खन लाल जी मुरेना जैसे विद्वानों का संसर्ग आपको मिला ।आप मासोपवासी कहे जाते है।आपके उपदेश से अनेक आर्षमार्गानुयायी ग्रंथो का प्रकाशन हुआ।सोनागिर स्थित त्यागीव्रती आश्रम आपकी कीर्ति पताका फेहरा रहा है। आपने शताधिक दीक्षाए अब तक प्रदान की थी।

 


आचार्य श्री १०८ शांति सागर जी महाराज (छाणी)
आचार्य श्री १०८ सूर्य सागर जी महाराज
आचार्य श्री १०८ विजय सागर जी महाराज
आचार्य श्री १०८ विमल सागर जी महाराज (भिंड वाले)
आचार्य श्री १०८ सुमति सागर जी महाराज
आचार्य श्री विद्याभूषण सन्मति सागर जी

Aacharya Shri 108 Sumati Sagar Ji Maharaj


Brief Introduction

Birth :
Aasoj Shukl 4 Vikram Saamvat 1948(1-1-1974) (Sat. 20-11-1917)
Birth Place: 
Gram-Shayampur,District - Murena M.P.
Birth Name :
Shri Natthi Laal Jain
Mothers Name :
Shrimati Chironjaa Devi Jain
Father’s Name :
Shri Chiddu laalJain
Elak Diksha :
Chaitra Shukl 13Vikram Samvat 2025,(1968)
Place of Elak Diksha :
Gram-Revadi ,Haryana
Muni Diksha :
Aghan vadi 12 Vikram Samvat 2025,13 -4-1973
Place of Muni Diksha :
Gajiyabaad (UP)
Diksha Guru :
Aacharya Vimalsagar ji Bhind
Acharya Pada:
Vikram Samvat 2030(13-4-1973)
Place of Acharya Pada:
Murena
Samadhi :
Vikram Samvat 2051,(3 Oct 1994)
Samadhi Place :
Sonagir,Mp

Aacharya Shri 108 Shantisagar Ji Maharaj (Uttar)
Aacharya Shri 108 Surya Sagar Ji Maharaj
Aacharya Shri 108 Vijay Sagar Ji Maharaj
Aacharya Shri 108 Vimal Sagar Ji Maharaj(Bhind)
Aacharya Shri 108 Sumati Sagar Ji Maharaj
Aacharya Shri 108 Vidyabhushan Sanmati Sagar Ji Maharaj