मुनि श्री १०८ विशोक सागरजी महाराज

मुनि श्री का जन्म 1-9-1975 को ललितपुर में हुआ । आपकी माता कुसुम देवी और पिता ज्ञान चंद जी ने आपको बचपन से ही धार्मिक संस्कार दिए । आपने अपनी प्रारंभिक शिक्षा 9th कक्षा तक श्री दि जैन वर्णी इंटर कालेज ललितपुर से प्राप्त की । तत्पश्चात आचार्य श्री विराग सागर जी के संपर्क एवं सानिध्य से प्रभावित होकर आपने 8-11-1995 को ललितपुर मेंआचार्य श्री से ब्रह्मचर्य व्रत ग्रहण किया ।

संक्षिप्त परिचय

जन्म: १.९.१९७५
जन्म  नाम:  
जन्म स्थान:: ललितपुर
माता का नाम: कुसुम देवी
पिता का नाम: ज्ञान चंद जी
ब्रह्मचर्य व्रत : ८ -११ -१९९५
ऐलक दीक्षा १३ -१० -२०००
ऐलक दीक्षा स्थान शिखरजी
ऐलक दीक्षा गुरू: आचार्य श्री विराग सागर जी
मुनि दीक्षा ८ -६ -२००३
मुनि दीक्षा स्थान ललितपुर
मुनि दीक्षा गुरू: आचार्य श्री विराग सागर जी
वर्षों धर्म मार्ग पर निरंतर उन्नति कर 13-10-2000 को शिखरजी में आपने आचार्य श्री से ऐलक दीक्षा ग्रहण की । साधना मार्ग पर अग्रसर होते हुए आपने 8-6-2003 को ललितपुर में आचार्य श्री विराग सागर जी से मुनि पद प्राप्त किया । धर्म पथ पर अविरल बढ़ते हुए आप स्वाध्याय ,चिंतन ,मनन एवं लेखनरत हैं । आपका साहित्य --- इबादत मेरे दिल की ,हाय !मेरा भारत ,खोजते रह जाओगे,बिन्दु से सिन्धु की यात्रा ,जिंदगी एक गीत है गाने के लिए ,तेरा एहसास मेरी जिंदगी ,कर्म दहन विधान । आपने चातुर्मास 2000 में श्री सम्मेद शिखरजी ,2001 में गया (बिहार ),2002 में श्रेयांस गिरी (m.p.),2003 में डाबडा (म.प्र .)में100 साल के बाद दिगम्बर मुनिराज का चातुर्मास हुआ । 2004 में आगरा (u.p.) ,2005 में बडौत (u.p.),2006 में न्यू उस्मानपुर (दिल्ली),2007 में शालीमारबाग (दिल्ली) ,2008 हांसी (हरियाणा) में 56 साल के बाद चातुर्मास हुआ और 350 वर्ष पुराने मन्दिर का जीर्णोद्धार का कार्य प्रारम्भ हुआ और खुदाई में भू -गर्भ से 1000 वर्ष पुरानी प्रतिमा का प्रगट होना एवं देवों द्वारा प्रतिमा का दुग्ध अभिषेक होना ऐतिहासिक क्षण घटित हुआ ।
गुरु
आचार्य श्री १०८ विराग सागर जी महाराज

Muni Shri 108 Vishok Sagar Ji Maharaj

 


Brief Introduction

Birth Date 1-09-1975
Birth Place Lalitpur
Birth Name  
Mother's Name Kusum Devi Jain
Father's Name Shri Gyan Chand Ji Jain
Brahmcharya vrat : 8-11-1995,Lalitput
Aillak Diksha : 13-10-200
Aillak Diksha Place: Shikhar Ji
Muni Diksha 08-06-2003
Muni Diksha Guru Aacharya Shri 108 Viragsagar Ji Maharaj
Muni Diksha Place : Lalitpur
Website : http://vishoksagar.webs.com,http://vishoksagar.blogspot.in/


Aacharya
Aacharya Shri 108 Virag Sagar Ji Maharaj