logo1 logo2
Tirthnkar_Mother_dream
tirthnkar_detail-2

SHREE AAHUJI (DHAAR) MADHYA PRADESH
 श्री आहूजी (धार), मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Sankat mochan AAhu Paeshvanath Dig. Jain Atishay Kshetra AAhu ji(Dhaar)
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री संकट मोचन आहू पार्श्वनाथ दिग. जैन अतिशय क्षेत्र आहूजी (धार)
Tirthkshetra's Address:
Shri Sankat mochan AAhu Parshvanath Dig. Jain Atishay Kshetra AAhu ji(Dhaar)
Gram – AAhu, ,District – Dhar  (Madhya Pradesh) Pin Code- 454001
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री संकट मोचन आहू पार्श्वनाथ दिग. जैन अतिशय क्षेत्र आहूजी (धार)
ग्राम – आहू , ,जिला – धार  (मध्य प्रदेश ) पिन कोड - ४५४००१
Telephone No.
07292-406291 ,265325
फ़ोन नंबर :
०७२९२-४०६२९१ ,२६५३२५
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 03
Hall :01(Capacity--50 person) Guest House: No
Total Capacity: for 100 people Canteen/Restaurant : No
Dispensary : No  LIbrary: No

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):००
कमरा (अलग स्नानघर): ०३
हॉल :०१ (क्षमता-५०)
अतिथि गृह : नहीं है
कुल क्षमता : १०० लोगो के लिए भोजनालय : नहीं है
औषधालय: नहीं है पुस्तकालय : नहीं है
विद्यालय : नहीं है एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Indore-65 km.
Bus stand –Dhaar-13km.
Easiest Way: By Road way vya Dhaar
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन :इंदौर - ६५ कि. मी.
बस स्टैंड : धार - १ ३ कि. मी.
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग से
Managing Committee :

Trust- Shri Sankat mochan AAhu Parshvanath Dig. Jain Atishay Kshetra Trust.
President- Shri Hukumchand Kaasliwaal (232370 , 0926065200)
Minister- Shri Pawan Jain Gangwal  (07292-406291)
Manager- Shri Pankaj Jain(07292-265325)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री संकट मोचन आहू पार्श्वनाथ दिग. जैन अतिशय क्षेत ,समिति
अध्यक्ष:  श्री हुकुमचंद कासलीवाल (२३२३७० , ०९२६०६५२०० )
मंत्री: श्री पवन जैन गंगवाल  (०७२९२ -४०६२९१ )
प्रबन्धक :
श्री पंकज जैन (०७२९२ -२६५३२५ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :01
Hill in tirth kshetra   :   No
Idol Parsvanath is 500 year old.Almost 150 year ago The Chaityalay Was change in temple.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०८
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता : भगवान् पार्श्वनाथ क़ी प्रतिमा ५०० साल पुरानी है ।लोक व्यव्हार मे इसके चमत्कारिक प्रसंग कहे और सुने जाते है ।
लगभग १५० वर्ष पूर्व चैत्यालय को मंदिर मे बदला गया ।संतो क़ी प्रेरणा से मंदिर का जीर्णोद्धार एवं विकास कार्य प्रगति पर है ।पोष वदी ग्यारस के दिन भगवान् पार्श्वनाथ जन्मोत्सव पर वार्षिकोत्सव मेला लगता है

Nearest Tirth & Visit Place :

Mantunggiri -13 km.,
Banediya -75 km,
Babangaja (Chul giri)- 122km


निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

मानतुंगगिरी -१३ कि मी .,
बनेडिया - ७५ कि. मी.
बाबनगजा -१२२ कि मी .

 

 

Nearest Main City:

Dhaar -13 km,

Indore-65 km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

धार - १३ कि. मी.

इंदौर - ६५ कि. मी.




























SHREE AAHAR JI MADHYA PRADESH
 श्री अहार जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Dig. Jain Siidha Kshetra AAhar ji
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिग . जैन सिद्ध क्षेत्र अहार जी
Tirthkshetra's Address:
Shri Digamber Jain Siddha Kshetra Aharji 
Aharji, Taluka – Baldeogarh, District – Teekamgarh (M.P.) Pin code -472001
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिग . जैन सिद्ध क्षेत्र अहार जी
तहसील – बलदेवगढ़ , जिला – टीकमगढ़ (मध्य प्रदेश ) पिन कोड -४७२००१
Telephone No.
07683 – 298932, 9926610184
फ़ोन नंबर :
०७६८३ – २९८९३२ , ९९२६६१०१८४
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):22 Room(Seprate Bathroom): 150
Hall :03(Capacity--200 person) Guest House: No
Total Capacity: for 1000 people Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : Yes  LIbrary: Yes

School : Yes(Samskrit vidyalay)

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):२२
कमरा (अलग स्नानघर): १५०
हॉल :०३ (क्षमता-२०० )
अतिथि गृह : नहीं है
कुल क्षमता : १०० लोगो के लिए भोजनालय : है
औषधालय:: है पुस्तकालय : है
विद्यालय :है (संस्कृत विद्यालय ) एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Mauranipur 62 km , Lalitpur 83 km , Jhansi 120 km .
Bus stand – Baldeogarh 10 km , Teekamgarh 25 km
Easiest Way: By Road way vya Teekamgarh
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन :मऊरानीपुर ६२ कि. मी. , ललितपुर ८३ कि. मी, झाँसी १२० कि. मी.
बस स्टैंड : बलदेवगढ़-१० कि. मी. , टीकमगढ़ - २५ कि. मी
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग टीकमगढ़ से अहार जी
Managing Committee :

Trust- Shri Management Committee Aharji 
President- Dr. Shikharchand Jain (07683-298011)
Minister- Shri Jai Kumarji Shashtri (  07683 – 242634, 244634 )
Manager- Shri Veerendra Kumar Jain(07683-298932 )

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री संकट मोचन आहू पार्श्वनाथ दिग. जैन अतिशय क्षेत ,समिति
अध्यक्ष:  डॉ . शिखरचंद जैन (०७६८३ -२९८०११ )
मंत्री: श्री जय कुमारजी शास्त्री ( ०७६८३ – २४२६३४ , २४४६३४ )
प्रबन्धक :
श्री वीरेंद्र कुमार जैन (०७६८३-२९८९३२ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :08 ,Maanstambh-02,Charanchatri -06 (On Panch Pahadi)
Hill in tirth kshetra   :   Yes
This Siddha Kshetra Aharji is very ancient sacred place and very important for historical & archaeological aspects. Broken fragments of Jain idols & Jain temples are available here in huge quantity here & there came out from the earth. From petrography it is very clear that there were so many sky high Jain temples made of stones.
By the inscription on rocks of V.S. 1100 to 1500, it is very clear that at the name of king Madanvarmdeo, old name of this place was Madansagarpur and a pond named Madansagar still exist here. 
After the salvation of Bhagwan Mallinath (The 19th Teerthankar), 17th Kamdeo Shri Madan Kumar (Nalraj) and in the period of Lord Mahaveer, Shri Bishkambal attained salvation from here.
Atishaya – A famous businessman Panashah found here his tin metal converted to silver, this event shows the miracle of this place. The place where Panashah stayed here still exists. That place is known as ‘Tanda Ka Khandha’. (Jain Directory Mumbai Year 1914)
After fast of one month, an ascetic saint got Ahar (Meal) here when the disturbances created by Yakshini (The Mythological Demigoddess) vanished. So this place was given the name Aharji, the current famous name. 
So many persons come here for fulfillment of their desires. Here’s main temple is Shri 1008 Shantinath Temple, this has the 18 feet high, very beautiful colossus of Lord Shantinath, the principal deity with two standing idols of Lord Kunthunath & Arahnath in both sides. 

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०८ मानस्तंभ - ०२ , चरण छतरी -६ (पञ्च पहाड़ी पर )
क्षेत्र पर पहाड़ : क्षेत्र से ७५ कि. मी दुरी पर है ,४० सीढ़ीया है
ऐतिहासिकता : इस क्षेत्र से भगवान् मल्लिनाथ के समय सत्रहवे कामदेव मदन कुमार एवं महावीर स्वामी के समय आठवे केवली ने तपस्या करके मोक्ष प्राप्त किया था ।जन श्रुति है कि १२वि सदी मई चंदेरी निवासी पाणा शाह व्यापारी ने जिन दर्शन उपरांत भोजन करने का व्रत ले रखा था ।१ बार उन्हें रांगा भरी गाडियों सहित यहाँ रुकना पड़ा ,लेकिन यहाँ जिनालय न होने से वे भोज ग्रहण नहीं नहीं कर सकते थे तभी उन्हें वहा मुनिराज दिखाई दिए उन्हें आहार देकर भोजन ग्रहण किया । संयोग से उनकी रांगा चंडी मे परिवर्तित हो गयी ।उस द्रव्य राशि से मंदिर बनवाया व् क्षेत्र का नाम आहार जी रखा ।मुलनायक प्रतिमा शांतिनाथ भगवान् की है ।


Nearest Tirth & Visit Place :

Papora ji-22 km.,
Drongiri -56 km,
Badagaoh- 30km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

पपोरा जी -२२ कि मी .
द्रोण गिरी -५६ कि मी .
बड़ा गाँव -३० कि मी .

Nearest Main City:

Teekamgarh -25 km,

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

टीकमगढ़ - २५ कि. मी

























SHREE AJAYGARH JI MADHYA PRADESH
 श्री अजयगढ़ जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Dig. Jain Atishay Kshetra Ajaygarh ji
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र अजयगढ़ जी
Tirthkshetra's Address:
Shri Dig. Jain Atishay Kshetra Ajaygarh ji
Subdistrict– Ajaygarh, District – Panna (M.P.) Pin code -488220
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र अजयगढ़ जी
तहसील – अजयगढ़ , जिला – पन्ना (मध्यप्रदेश .) पिन कोड -४८८२२०
Telephone No.
07730-278244,09425025925
फ़ोन नंबर :
०७७३० -२७८२४४ ,०९४२५०२५९२५
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):No Room(Seprate Bathroom): No
Hall :No Guest House: No
Total Capacity: No Canteen/Restaurant : No
Dispensary : Yes (Govt,)  LIbrary: No

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):नहीं है
कमरा (अलग स्नानघर): नहीं है
हॉल :नहीं है
अतिथि गृह : नहीं है
कुल क्षमता : नहीं है भोजनालय : नहीं है
औषधालय: है पुस्तकालय : नहीं है
विद्यालय :नहीं है एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Satna-100km.
Bus stand – Ajaygarh
Easiest Way: By Road way vya Panna or Banda
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन :सतना - १०० कि.मी.
बस स्टैंड : अजयगढ़
पहुचने का सरलतम मार्ग : पन्ना या बांद्रा से सड़क मार्ग द्वारा
Managing Committee :

Trust- Shri Dig Jain Atishay Kshetra Committee Ajaygarh 
President- Shri. Rajkumar ji Jain (07730-278242)
Minister- Shri Komalchand jain (  07730 – 278257 )
Manager- Shri Mahendra Kumar Jain(07730-278498)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री दिग जैन अतिशय क्षेत्र कमेटी अजयगढ़  
अध्यक्ष:  श्री राजकुमार जी जैन (०७७३० -२७८२४२ )
मंत्री: श्री कोमलचंद जैन ( ०७७३० – २७८२५७ )
प्रबन्धक :
श्री महेंद्र कुमार जैन (०७७३० -२७८४९८ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :02
Hill in tirth kshetra   :   Yes(550 stairs)
At the time of chandel vansh raja on jaypal parvat build one jain temple. In the Temple idol is 12 feet high Shantinath Bhagwan.And Arahnath and kuntunath too. The temple is now in possession of the Department of Archaeology, which has banned the worship. The 2 new temple Construction  is in progress.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०८ मानस्तंभ - ०२ , चरण छतरी -६ (पञ्च पहाड़ी पर )
क्षेत्र पर पहाड़ : क्षेत्र से ७५ कि. मी दुरी पर है ,४० सीढ़ीया है
ऐतिहासिकता : चंदेल वंशी राजाओ के समय जयपाल पर्वत पर बना प्राचीन जैन मंदिर जिनमे १२ फीट कि ऊँची शांतिनाथ भगवान् कि प्रतिमा है ।
साथ मे अरहनाथ और कुन्थु नाथ जी की भी प्रतिमाये है पर्वत पर जैन मुर्तिया बिखरी हुई है ।आजकल यह क्षेत्र पुरातत्व विभाग के अधिकार मैं है जिसके द्वारा पूजन पर रोक लगी हुई है । दो मंदिर का निर्माण कार्य चल रहा है ।

Nearest Tirth & Visit Place :

Khajuraho-50 km.,
Drongiri ,Naina giri ,Shreyasnh Giri-100 km,
Chtrakut- 100km


निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

खजुराहो - ५० कि.मी.
द्रोणगिरी , नैना गिरी ,श्रेयांश गिरी -१०० कि.मी.
चित्रकूट - १०० कि.मी.

Nearest Main City:

Panna-32 km,

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

पन्ना - ३२ कि.मी




























SHREE BADOH JI MADHYA PRADESH
 श्री बड़ोह जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Gadarmal Dig. Jain Mandir And Chobisi Dig. Jain van Mandir ,Badoh
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
गड़र मल दिग जैन मंदिर एवं चोबिसी दिग जैन वन मंदिर ,बड़ोह
Tirthkshetra's Address:
Shri Gadarmal Dig. Jain Mandir And Chobisi Dig. Jain van Mandir ,Badoh
Gram– Badoh,Post-pathari ,Subdistrict-kurvai District – Vidisha (M.P.) Pin code -464337
तीर्थ क्षेत्र का पता :
गड़र मल दिग जैन मंदिर एवं चोबिसी दिग जैन वन मंदिर ,बड़ोह
ग्राम – बडोह , पोस्ट -पठारी ,तहसील -कुरवाई जिला – विदिशा (मध्यप्रदेश .) पिन कोड -४६४३३७
Telephone No.
07593-245405
फ़ोन नंबर :
०७५९३ -२४५४०५
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):No Room(Seprate Bathroom): No
Hall :No Guest House: No
Total Capacity: No Canteen/Restaurant : No
Dispensary : No  LIbrary: No

School : No

STD PCO : No
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):नहीं है
कमरा (अलग स्नानघर): नहीं है
हॉल :नहीं है
अतिथि गृह : नहीं है
कुल क्षमता : नहीं है भोजनालय : नहीं है
औषधालय:नहीं है पुस्तकालय : नहीं है
विद्यालय :नहीं है एसटीडी पीसीओ :नहीं है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : GanjBasoda-35km.
Bus stand – Pathari
Easiest Way: By Road way :pathari to badoh
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन :गंजबासोदा -३५ कि. मी
बस स्टैंड : पठारी - १ कि. मी
पहुचने का सरलतम मार्ग : पठारी से बड़ोह
Managing Committee :

Trust- Gadarmal Dig. Jain Mandir Committee 
President- Shri. Annilal Jain (07593-245618)
Minister- Shri Abhinandan jain (  07593-245405 )
Manager-

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :गड़र मल दिग जैन मंदिरकमेटी
अध्यक्ष:  श्री अन्नीलाल जैन (०७५९३ -२४५६१८ )
मंत्री: श्री अभिनन्दन जैन ( ०७५९३ -२४५४०५ )
प्रबन्धक :

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :02
Hill in tirth kshetra   :   Yes(Near 1 km.)
Gadarmal Temple – Local people says that this temple was built by a gadaria(shepherd) hence the name of the temple. The temple can be dated to 9th century. This is the biggest monument among all in these villages. This is a sapt-ayana(seven-shrines complex) temple. The temple was dedicated to a goddess or goddesses as seen from the main images on the door lintel and around the temple exterior wall. This temple was preserved by Gwalior Archaeological Department in 1923-24.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०२
क्षेत्र पर पहाड़ : क्षेत्र से १ कि. मी दुरी पर है |
ऐतिहासिकता : यह एक प्राचीन कला क्षेत्र है । यहाँ की कलाकृतियाँ ग्यारहवी शताव्दी की ज्ञात होती है । बड़े बाबा की प्राचीन प्रतिमा है जिसकी ऊंचाई १८ फुट चौड़ाई ४ फुट है ।प्रतिमा अत्यंत मनोहारी है ।वन मे मंदिर चौबीसी मे १९ कोठरी है । अन्य दर्शनीय स्थल सोलह खम्बा .दसावतार गुफा है ।यह क्षेत्र पुरातत्व विबाग के अधीन है ।


Nearest Tirth & Visit Place :

Pathari -1 km.,
Gyaraspur -35 km,
Khurai - 18km

Udaypur - 18km


निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

पठारी - १ कि. मी
ग्यारसपुर -३५ ,
खुरई - १८
उदयपुर - १८

Nearest Main City:

Ganjbasoda-35 km,

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

गंजबासोदा - ३५ कि. मी.




























SHREE BAHI PARSHVANATH JI MADHYA PRADESH
 श्री बही पार्श्वनाथ जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Namokaar Mahamantra Sadhna Kendra,Bahi Parshvanath
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
णमोकार महामंत्र साधना केंद्र ,बही पार्श्वनाथ
Tirthkshetra's Address:
Namokaar Mahamantra Sadhna Kendra,Bahi Parshvanath
Gram– Bahi,Subdistrict-Malhaargarh , District – Mandsaur (M.P.) Pin code -458664
तीर्थ क्षेत्र का पता :
णमोकार महामंत्र साधना केंद्र ,बही पार्श्वनाथ
ग्राम – बही ,तहसील -मल्हारगढ़ , जिला – मंदसौर (मध्यप्रदेश .) पिन कोड -४५८६६४
Telephone No.
07424-241461 , 241948
फ़ोन नंबर :
०७४२४ -२४१४६१ , २४१९४८
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):13 Room(Seprate Bathroom): No
Hall :2 (capacity-50) Guest House: 6
Total Capacity: 150 Canteen/Restaurant : Yes(paid)
Dispensary : No  LIbrary: No

School : Yes(Eng-Hindi medium)

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):१३
कमरा (अलग स्नानघर): नहीं है
हॉल : २ (क्षमता -५०)
अतिथि गृह : ६
कुल क्षमता : १५० भोजनालय :है सशुल्क
औषधालय:नहीं है पुस्तकालय : नहीं है
विद्यालय : है () एसटीडी पीसीओ :है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Pipalya Mandi-3km.,Mandsaur - 14km
Bus stand – Pipalya Mandi - 3 km
Easiest Way: By Road way vya Mandsaur or Pipalya mandi
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन :पिपल्या मंडी-३ कि. मी. मंदसौर - १४ कि.मी.
बस स्टैंड : पिपल्या मंडी-३ कि. मी.
पहुचने का सरलतम मार्ग : पिपल्या मंडी-३ कि. मी. मंदसौर - १४ कि.मी. सड़क मार्ग से
Managing Committee :

Trust- Namokaar Mahamantra Sadhna Kendra Committee 
President- Shri. Shanti lal Badjatya (07422-245534 ,09425923534)
Minister- Shri Veerndra Kumar Vinayaka(  07422-245110 ,250387 )
Manager- Shri Shantilal Jain(07424-241461,241948)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :णमोकार महामंत्र साधना केंद्र कमेटी
अध्यक्ष:  श्री शांति लाल बडजात्या (०७४२२ -२४५५३४ ,०९४२५९२३५३४ )
मंत्री: श्री वीरेंद्र कुमार विनायका ( ०७४२२ -२४५११० ,२५०३८७ )
प्रबन्धक :
श्री शांतिलाल जैन (०७४२४ -२४१४६१ ,२४१९४८ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :04 And Choubisi ,Maanstambh ,Samavsharan ,Aacharya Kalayan Sagar Samadhi
Hill in tirth kshetra   :   No
Gadarmal Temple – Bahi parshvanat kshetra is creation by inspiration of aacharya kalayan Sagar Ji Maharaj. It is Also the place of aacharya kalyan sagar Samadhi.It is very good place for jaap of namokar mantra.Here Vradashram ,Sant Nivas And Shikshan Sanshthan plan to build.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०४ एवं चौबीसी ,मानस्तंभ ,समवशरण ,आचार्य कलयाण सागर समाधी
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता : आचार्य कल्याण सागर जी की प्रेरणा से इस क्षेत्र का निर्माण हुआ है ।
यह आचार्य कल्याण सागर जी का समाधी स्थल भी है ।इस साधना केंद्र पर णमोकार मंत्र का जाप करने से बहत आनद आता है एवं विघ्न बाधा से मुक्ति मिलती है | यहाँ व्रदाश्रम ,संत निवास ,शिक्षण संस्तान बनाने की योजना है ।

Nearest Tirth & Visit Place :

Pratapgarh -35 km.,
Bamotar Shantinath -40 km,
Devgarh - 50km

Dhairyavad- 70km (All Mandir in Raj.)


निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

प्रतापगढ़ -३५ कि.मी.,
बमोतर शांतिनाथ -40 कि.मी.
देवगढ - ५० कि.मी.
धरियावद - ७० कि.मी.(ये सभी तीर्थ राज. मे है )

Nearest Main City:

Mandsaur-14 km,

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

मंदसौर - १४ कि.मी.




























SHREE BAHORIBAND MADHYA PRADESH
 श्री बहोरीबंद , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Dig. Jain Atishay Kshetra ,Bahori Band
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र ,बहोरी बंद
Tirthkshetra's Address:
Shri Dig. Jain Atishay Kshetra ,Bahori Band
Gram &,Subdistrict-Bahoriband , District – Katni (MadhyaPradesh) Pin code -483330
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र ,बहोरी बंद
ग्राम एवं तहसील -बहोरिबंद , जिला – कटनी (मध्य प्रदेश ) पिन कोड -४८३३३०
Telephone No.
07542-257635
फ़ोन नंबर :
०७५४२ -२५७६३५
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):10 Room(Seprate Bathroom): 08
Hall :3 (capacity-100) Guest House: 01
Total Capacity: 500 Canteen/Restaurant : Yes(paid)
Dispensary : No  LIbrary: No

School : Yes(Eng-Hindi medium)

STD PCO : No
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):१०
कमरा (अलग स्नानघर): ०८
हॉल : ०३ (क्षमता - १०० )
अतिथि गृह : ०१
कुल क्षमता : ५०० भोजनालय :है सशुल्क
औषधालय:नहीं है पुस्तकालय : नहीं है
विद्यालय : है एसटीडी पीसीओ :नहीं है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station :Siora And Salliya-25km,katni -50km
Bus stand – Bahoriband
Easiest Way: By Road
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन :सिहोरा -२५ कि मी ,कटनी -५० कि मी
बस स्टैंड : बहोरिबंद
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग से
Managing Committee :

Trust- Shri Dig. Jain Atishay Kshetra Committee ,Bahori Band
President- Shri. Keval chand jain (0761-2650731)
Minister- Shri Narendra Kumar Jain(  0764-251010)
Manager- Shri Manoj kumar Jain(09425158166)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र कमेटी ,बहोरी बंद
अध्यक्ष:  श्री केवल चंद जैन (०७६१ -२६५०७३१ )
मंत्री: श्री श्री नरेन्द्र कुमार जैन ( ०७६४ -२५१०१० )
प्रबन्धक :
श्री मनोज कुमार जैन (०९४२५१५८१६६ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :03
Hill in tirth kshetra   :   No
This place was one of the important Jain centre of Madhya Pradesh. The idol of Bhagwan Shantinatha is famous for its miracles and is called as Khanuadeo by local people.  there is a statue of Jain Teerthankar Shantinath 12 feet high. There is some scripture of 12th century Previously this idol was found in an open place. Now this is being looked after by Jains. This idols is said to of 12th or 13th century A.D. 16 Jain idols were got at this place during the land excavation works, they include the idols of some Tirthankaras and Yakshi Ambika. Numerous jain idols are found scattered in this place. Recently few Jain idols with Bhagawan Adinatha as the main deity were installed in the Dharmashala

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०३
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता : लगभग १००० वर्ष पुराणी शांतिनाथ भगवान् कि १६ फुट ऊँची प्रतिमा मंदिर जी मे विराजमान है । ग्रामीण जनता खानुँदेव रक्षक के रूप मे मनोती मांगते थे ।सन १९८१ मे प्रतिमा नवीन वेदी मे विराजमान करायी गयी ।यह अबहुबली स्वामी कि भी प्रतिमा है ।आचार्य विद्यासागर जी ससंघ यहाँ १९८२ ,१९९२ ,२००१ मे आ चुके है ।


Nearest Tirth & Visit Place :

Tigvan Gram-3 km.,
Kundalpur -65 km,
Jalkund - 5km

Madiya ji - 70km


निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

तिग्वन ग्राम - (३६ देवालयों के अवशेष ) ३ कि.मी.,
कुण्डलपुर -६५ कि.मी.
जलकुंड - ०५ कि.मी.
पिसन हारी माडिया जी - ७० कि.मी.

Nearest Main City:

Siora And Salliya-25km,
katni -50km ,
Jabalpur-65km,
Kundalpur-65km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

सिहोरा -२५ कि मी
,कटनी -५० कि मी

कुण्डलपुर -६५ कि.मी.

जबलपुर - ६५ कि.मी.



























SHREE BAJRANG GARH MADHYA PRADESH
 श्री बजरंग गढ़ , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Shantinath Digamber Jain Atishaya Kshetra Bajrang Garh.
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री शांतिनाथ दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र बजरंग गढ़ .
Tirthkshetra's Address:
Shri Shantinath Digamber Jain Atishaya Kshetra Bajrang Garh.
Place & Post – Bajrang Garh, Dist. – Guna (M.P.). Pin 473001 
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री शांतिनाथ दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र बजरंग गढ़ .
बजरंग गढ़ , जिला . – गुना (मध्य प्रदेश). पिन कोड ४७३००१
Telephone No.
07542 – 257635
फ़ोन नंबर :
०७५४२ – २५७६३५
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):04 Room(Seprate Bathroom): 14
Hall :3 (capacity-200) Guest House: 01
Total Capacity: 500 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : No  LIbrary: No

School : Yes(Govt.)

STD PCO : No
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):०४
कमरा (अलग स्नानघर): १४
हॉल : ०३ (क्षमता - २०० )
अतिथि गृह : ०१
कुल क्षमता : ५०० भोजनालय :है
औषधालय:नहीं है पुस्तकालय : नहीं है
विद्यालय : है (Govt.) एसटीडी पीसीओ :नहीं है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station :Guna-7km
Bus stand – Guna-7km
Easiest Way:  Busses, Auto Rickshaw & Jeeps are available from Guna, Aron & Sironj for Bajrang Garh. 
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : गुना -०७ कि मी
बस स्टैंड : गुना -०७ कि मी
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग से गुना से बस या ऑटो सुविधा उपलब्ध है
Managing Committee :

Trust- Shri Shantinath Dig. Jain Atishaya Kshetra Bajrang Garh Managing Committee 
President- Shri Rameshchandra Jain (07542-252256 ,09826812256) 
Minister- Chaudhary Rajesh Jain  (9425134374)
Manager- Shri Abhay Jain(09407225313)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री शांतिनाथ दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र .कमेटी ,बजरंग गढ़
अध्यक्ष:  श्री रमेश चन्द्र जैन (०७५४२ -२५२२५६ ,०९८२६८१२२५६ ) 
मंत्री: चौधरी राजेश जैन (९४२५१३४३७४ )
प्रबन्धक :
श्री अभय जैन (०९४०७२२५३१३ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :03
Hill in tirth kshetra   :   No
Atishaya Kshetra Bajrang Garh is about 1200 years old, situated in the west of Guna District on Guna-Aron-Sironj route. This is a place full of natural beauty, famous in the world for attractive miraculous idols of Lord Shantinath, Kunthunath & Arahnath in standing posture. Jain Nagar was the old name of this place, which was changed later on the name of Lord Bajrang (Hanuman) Temple in the fort as Bajrang Garh.
This Kshetra shows the broadmindness of famous historic businessman Shri Pada Shah, his love & faith for Jainism and a proof of expertise of architects and artists. 
Shri Pada Shah constructed here’s main ancient temple in V.S. 1236, he also constructed Jain Temples at many more Teerth Kshetras. 
Atishaya – This is said that to worship gods of heaven come here. So many persons have heard their music & sound in midnight.
In V.S. 1943 some persons tried to destroy the idols & temple, immediately rain of fire started and invaders have to run away. 
So many Jains & others come here & worship Lord Shantinath and get their desires materialized.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०३
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता : मुख्य मंदिर को सेठ पाडा शाह ने बनवाया है ।इसमें मुलनायक शांतिनाथ कि प्रतिमा है ।मूर्ति कि १ तरफ अरह नाथ भगवान् और दूसरी तरफ कुंथुनाथ भगवान् कि प्रतिमा है ।यहाँ दीवारों पर चित्रकारी एवं मुर्तिया उकेरी गयी है ।भगवान् बाहुबली कि १.७५ मीटर ऊँची मूर्ति भी दर्शनीय है ।


Nearest Tirth & Visit Place :

Ashok Nagar(trikaal Choubisi )-45 km.,
Thubon ji-70 km,
Chandkhedi- 150km

Khandar ji - 90km


निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

अशोक नगर (त्रिकाल चौबीसी )-४५ कि.मी.,
थुबोन जी -७० कि.मी.
चाँदखेडी - १५० कि.मी.
खान्दर जी - ९० कि मी

Nearest Main City:

Guna -07km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

गुना -०७ कि मी



























SHREE BANDHAJI, MADHYA PRADESH
 श्री बंधा जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri 1008 Ajitnath Digambar Jain Atishaya Kshetra Bandhaji 
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री १००८ अजितनाथ दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र बंधाजी
Tirthkshetra's Address:
Shri 1008 Ajitnath Digambar Jain Atishaya Kshetra Bandhaji 
Subdistrict-Jataara Dist. – Teekamgarh (M.P.). Pin 472101
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री १००८ अजितनाथ दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र बंधाजी
तहसील - जतारा जिला - टीकमगढ़ (मध्य प्रदेश).पिन कोड- ४७२१०१
Telephone No.
07681-290604, 9098355530
फ़ोन नंबर :
०७६८१ -२९०६०४ , ९०९८३५५५३०
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):03 Room(Seprate Bathroom): 40
Hall :01(capacity-100) Guest House: No
Total Capacity: 200 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : Yes  LIbrary: Yes

School : Yes

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):०३
कमरा (अलग स्नानघर): ४०
हॉल : ०१ (क्षमता - १००)
अतिथि गृह :नहीं है
कुल क्षमता : २०० भोजनालय :है
औषधालय: है पुस्तकालय :है
विद्यालय : है एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Jhansi Railway Station, One can reach Bandhaji from Jhansi via Bamhori on Jhansi-Tikamgarh Road, Kshetra is simply 7 km ahead from Bamhori. 
Bus stand – From Jhansi & Tikamgarh many buses are available for Bandhaji Kshetra via Bamhori. 
Easiest Way:  By Road
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : झाँसी -७० कि मी
बस स्टैंड : बम्होरी -०७ कि मी. (झाँसी से टीकमगढ़ मार्ग पर )
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग से
Managing Committee :

Trust- Shri 1008 Ajitnath Digambar Jain Atishaya Kshetra Committee, Bandhaji (M.P.) 
President- Shri Prakash jain(07681-262213)
Minister- Shri Sunil Kumar Jain (07683-244177)
Manager- Shri Ramesh Chanfd Jain(07681-290604)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री १००८ अजितनाथ दिगंबर जैन अतिशय क्षेत .कमेटी ,बंधाजी
अध्यक्ष:  श्री प्रकाश जैन (०७६८१ -२६२२१३ )
मंत्री: श्री सुनील कुमार जैन  (०७६८३ -२४४१७७ )
प्रबन्धक :
श्री रमेश चंद जैन (०७६८१ -२९०६०४ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :06
Hill in tirth kshetra   :   No
The 900 years ancient black colored magnificent & miraculous idol of principal deity Bhagwan Ajitnath is installed in a basement of Shri Bandhaji Atishaya Kshetra. According to historical & archeological evidences available this Kshetra seems to be more than 1500 years ancient. This place is situated in between the beautiful hills full of natural & clean & peaceful environment. 
The 7 Bhonyare (Basements) are quite famous in ‘Bundelkhand’ which are situated in ‘Pava’, ‘Deogarh’, ‘Seron’, ‘Karguvan’, ‘Bandha’, ‘Papora’ & ‘Thuvon’. It is said that these 7 Basements were got constructed by two brothers namely ‘Devpat’ & ‘Khevpat’. The two ancient spired temples are also constructed here which are worth seeing from the point of view of art & magnificence. 
This Kshetra is quite wealthy from the point of view of archeology. The important matter related to Jainism is scattered any where in fields, pounds, ancient forts & in old temples. 
It seems that this place was developed during the time of Chandel Kings & Bhonyare (Basement) constructed during the time of Muslim rulers (to keep idols safely). 

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०६
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता :यह क्षेत्र १५०० वर्ष प्राचीन है ।मुग़ल काल में धर्मविद्रोहियों ने भगवान् अजित नाथ की मूर्ति खंडित करने का प्रयास किया गया तभी विद्रोही जन देव योग से जकड़ा गए जब से इस क्षेत्र का नाम बंधा विख्यात हुआ ।मूल नायक भगवान् अजितनाथ की मूर्ति है ।१९५३ में आचर्य श्री महावीर कीर्ति ने मूर्ति के अभिषेक का जल को सूखे कुए मई डालकर जल से परिपूर्ण किया ।सन १९९७ में ३ माह तक पञ्च दूध जैसी धाराए देव योग से बनी ।१९९८ में मूर्ति के सामने रखे दीपकों में से १ दीपक बहुत धमाके की आवाज के साथ फटा जिसके टुकड़े मूर्ति को छोड़कर सभी दूर जा गिरे ।आज भी मनोकामना पूरी होती है ।


Nearest Tirth & Visit Place :

Atishaya Kshetra: -
Paporaji, District – Tikamgarh -45km
Karguvanji, District – Jhansi 70km
Kshetrapalji, District – Lalitpur 
Siddha Kshetra: - 
Aharji, District – Tikamgarh -65km
Sonagiriji, District – Datia -120km
Pavagiriji, District – Lalitpur-50km 
Dronagiriji, District – Chhatarpur 


निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

अतिशय क्षेत्र : -
पपोराजी , जिला – टीकमगढ़- ४५ कि मी.
करगुवां जी , जिला – झाँसी ७०कि मी
क्षेत्र पाल जी , जिला – ललितपुर
सिद्ध क्षेत्र : -
आहार जी , जिला – टीकमगढ़ -६५ कि मी
सोनागिरीजी ,जिला – दतिया - १२०कि मी
पवागिरीजी , जिला – ललितपुर -५० कि मी
द्रोण गिरीजी , जिला – छतरपुर

Nearest Main City:

Teekamgarh-40 ,jhansi-70

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

झाँसी -७० कि मी ,टीकमगढ़ -४० कि मी.



























SHREE BANEDIA JI MADHYA PRADESH
 श्री बनेडिया जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra, Banediaji
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र , बनेडिया जी
Tirthkshetra's Address:
Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra, Banediaji
Gram-Banedia, Subdistrict- Depal-Pur , Dist. – Indore (M.P.). Pin 453115
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र , बनेडिया जी
ग्राम - बनेडिया तहसील - देपल -पुर जिला- इंदौर (मध्य प्रदेश).पिन कोड-४५३११५
Telephone No.
07322-220231 . 09893713839
फ़ोन नंबर :
०७३२२ -२२०२३१ . ०९८९३७१३८३९
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):10 Room(Seprate Bathroom): 20
Hall :01(capacity-125) Guest House: No
Total Capacity: 300 Canteen/Restaurant : Yes(paid)
Dispensary : Yes  LIbrary: Yes

School : No ,Sant Sadan-For Sant

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):१०
कमरा (अलग स्नानघर): २०
हॉल : ०१ (क्षमता -१२५ )
अतिथि गृह :नहीं है
कुल क्षमता : ३०० भोजनालय :है
औषधालय: है पुस्तकालय :है
विद्यालय : नहीं है ,संत सदन - मुनिराजो .माताजी के लिए एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Indore-45km
Bus stand – Busses and taxies are available from Indore to depal-pur and direct to Kshetra also. Taxies, jeeps, three-wheelers etc. are also available from Depal-pur to Kshetra. 
Easiest Way:  By Road
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : इंदौर - ४५कि मी .
बस स्टैंड : देपल -पुर से बनेडिया जी ०४ कि मी .
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग से
Managing Committee :

Trust- Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra, Banedia Mandir Trust 
President- Shri Manak Chandji Gangwal  (0731-2521414,9302421414)
Minister- Shri Vimalchand Jain (0731-2621185)
Manager- Shri Sandip Jain(07322-2220231 , 09893713839)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र कमेटी , बनेडिया जी
अध्यक्ष:  श्री मानक चंद जी गंगवाल  (०७३१ -२५२१४१४ ,९३०२४२१४१४ )
मंत्री: श्री विमलचंद जैन  (०७३१ -२६२११८५ )
प्रबन्धक :
श्री संदीप जैन (०७३२२ -२२२०२३१ , ०९८९३७१३८३९ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :02
Hill in tirth kshetra   :   No
Shri Banediaji Atishaya Kshetra is about eight hundred years old. It is situated on the bank of a huge pond. One end of the pond touches Depal Pur. It is guessed that in the past there would have been a big town stretching from Depal Pur to Banedia. 
According to a myth, this temple was being transported somewhere through aerial route by an ascetic saint (Tapasvi Muniraj), however due to some reason he had to land this temple here and thus this temple was established here. This temple is called the one which has reached here flying. To support the popular myth about this temple, is the fact that there is no foundation of this temple and still it has been standing here for hundreds of years. This is the only Atishaya Kshetra without foundation in India. 
Atishaya — The principal idol (Mool-Nayak) of this temple is that of 2nd Teerthankar Bhagvan Ajit Nath. There are so many popular stories about the miracles related to this idol. Not only jains but thousands of people from different religions come here to offer their prayers for fulfillment of their desires. On the occasion of annual fair thousands of men & women assemble here showing great religious fervor and devotion.  

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०२
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता :यह क्षेत्र लगभग ८०० वर्ष पुराना है ।मुलनायक भगवान् अजित नाथ जी की अत्यंत प्राचीन ,अतिशय युक्त व् मनोमुग्धकारी प्रतिमा है ।मंदिर मैं सेकड़ो प्राचीन प्रतिमाये विराजमान है । किवदन्ती है की इस जैन मंदिर को महात्माओ द्वारा आकाश से उतरा गया था ।इस मंदिर की नीव नहीं है ।यहाँ जैन ही नहीं अजैन लोग भी आकर अपनी मनोकामना पूरी करते है । प्रतिवर्ष चैत्र सुदी पूनम को वार्षिक मेला भरता है ।मंदिर के पास मई तालाब है ।अन्दर की तीनो वेदियों में कांच का सुन्दर मनोहारी कार्य देखने योग्य है ।


Nearest Tirth & Visit Place :

Gommatgiri - 30km
Siddhavar kut-125km
Makshi ji – 95km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

गोमट गिरी - ३० कि मी.
सिद्धावर कूट - १२५ कि मी
मक्सी जी – ९५ कि मी

Nearest Main City:

Indore-45km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

इंदौर - ४५कि मी



























SHREE BARELA JI, MADHYA PRADESH
 श्री बरेला जी , , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Parshvanath Digamber Jain Atishaya Kshetra, Barela ji
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र , बरेला जी
Tirthkshetra's Address:
Shri Parshvanath Digamber Jain Atishaya Kshetra, Barela ji
Gram-Barela , Dist. – Jabalpur (M.P.). Pin 483001
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र , बरेला जी
ग्राम - बरेला , जिला-जबलपुर(मध्य प्रदेश).पिन कोड-४८३००१
Telephone No.
0761-2890431
फ़ोन नंबर :
०७६१ -२८९०४३१
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 05
Hall :01(capacity-100) Guest House: No
Total Capacity: 150 Canteen/Restaurant : Yes(Free of charge)
Dispensary : Yes  LIbrary: Yes

School : Yes

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):००
कमरा (अलग स्नानघर): ०५
हॉल : ०१ (क्षमता -१०० )
अतिथि गृह :नहीं है
कुल क्षमता : १५० भोजनालय :है निशुल्क
औषधालय: है पुस्तकालय :है
विद्यालय : है एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Jabalpur-16km
Bus stand – Barela - 1/2 km.
Easiest Way:  By Road -Jabalpur-Mandla Marg
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : जबलपुर-१६ कि.मी
बस स्टैंड : बरेला -१/२ कि.मी
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग से जबलपुर-मंडला मार्ग
Managing Committee :

Trust- Shri Parshvanath Digamber Jain Atishaya Kshetra Commeti,barela 
President- Shri Kchandilaal Jain  (0761-2890108)
Minister- Shri Shudir Kumar Jain (0761-2890549)
Manager- Shri Rajesh Kumar Jain(0761-2890564)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र कमेटी , बरेला
अध्यक्ष:  श्री कंछेदी लाल जैन  (०७६१ -२८९०१०८ )
मंत्री: श्री सुधीर कुमार जैन  (०७६१ -२८९०५४९ )
प्रबन्धक :
श्री राजेश कुमार जैन (०७६१ -२८९०५६४ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :03
Hill in tirth kshetra   :   No
Shri Barela ji Atishaya Kshetra is about Two hundred years old. . 10 years ago had been stolen 14 antique Idol  got back after 2 days.
 

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०२
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता :२०० वर्ष पुराना शिखरबंद मंदिर है । १० साल पहले १४ प्राचीन प्रतिमाये चोरी हो गयी थी जो २ दिन बाद वापस मिल गयी |१ बार मंदिर के शिखर पर बिजली गिरने से मीटर के जलने के आलावा कोई नुकसान नहीं हुआ


Nearest Tirth & Visit Place :

Madiya ji(Jabalpur)- 20km
Bhedaghat - 35km
Panagar– 35km
Bohiriband -70 km
Koniji - 55km
Kundalpur Siddhakshetra- 160km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

माडिया जी (जबलपुर )- २० कि मी
भेड़ाघाट - ३५ कि मी
पनागर – ३५ कि मी
बोहिरिबंद -७० कि मी
कोनिजी - ५५ कि मी
कुण्डलपुर सिद्धक्षेत्र - १६० कि मी

Nearest Main City:

Jabalpur-16km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

जबलपुर-१६ कि.मी



























SHREE BARHI JI(Vallabhpur), MADHYA PRADESH
 श्री बरही (वल्लभ पुर) जी , , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra, Barhi (Vallabhpur)ji
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र , बरही (वल्लभ पुर)
Tirthkshetra's Address:
Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra, Barhi (Vallabhpur)ji
Gram-Barhi ,Subdistrict-Ater, Dist. – Bhind (M.P.). Pin 477556
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र , बरही (वल्लभ पुर)
ग्राम - बरही ,तहसील - अटेर , जिला-भिंड (मध्य प्रदेश).पिन कोड-४७७५५६
Telephone No.
07534-287703
फ़ोन नंबर :
०७५३४-२८७७०३
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):03 Room(Seprate Bathroom): 04
Hall :02(capacity-20) Guest House: No
Total Capacity: 60 Canteen/Restaurant : No
Dispensary : No  LIbrary: No

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):०३
कमरा (अलग स्नानघर): ०४
हॉल : ०२(क्षमता -२० )
अतिथि गृह :नहीं है
कुल क्षमता : ६० भोजनालय :नहीं है
औषधालय:नहीं है पुस्तकालय :नहीं है
विद्यालय : नहीं है एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Itava - 12km , Gwalior-100km ,Bhind -20km
Bus stand – Itava -12 km. Bhind- 20km
Easiest Way:  By Road -Gwl-Bhind Way
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : इटावा - १२कि मी , ग्वालियर -१००कि मी ,भिंड -२०कि मी
बस स्टैंड : इटावा - १२कि मी ,भिंड -२०कि मी
पहुचने का सरलतम मार्ग : ग्वालियर -भिंड सड़कमार्ग
Managing Committee :

Trust- Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra, Barhi Prabandhkarykarini Commeti,barhi 
President- Shri Pandey Prabhu Dayal Jain  (05688-252385)
Minister- Shri S.K. Jain (07534-233920)
Manager- Shri Mahaveer Prashad Jain(0761-2890564)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र , बरही (वल्लभ पुर)कमेटी
अध्यक्ष:  श्री पाण्डेय प्रभु दयाल जैन  (०५६८८ -२५२३८५ )
मंत्री: श्री श्री एस .के . जैन  (०७५३४ -२३३९२० )
प्रबन्धक :
श्री महावीर प्रसाद जैन (०७६१ -२८९०५६४ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :01
Hill in tirth kshetra   :   No
It is hearsay that In barhi Jain temple is buily by dev.The Main temple was 1200 year old And idol was 10th or 11th century.Bhagwaan Mulnayak Ajitnath is from 1520.
one idol kshetrapaal also here .
 

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता :किंवदन्ती है की भगवान् महावीर के समवशरण स्थल बरही मे देवों ने भव्य जिनालय का निर्माण किया था । वर्तमान जिनालय १२०० वर्ष प्राचीन है एवं जिन प्रतिमाये १०वि या ११ वि सदी शताब्दी की है ।भगवान् अजित नाथ की मुलनायक पद्मासन प्रतिमा १५२० की है ।इसके आलावा क्षेत्र पाल जी की भी चमत्कारिक प्रतिमा यहाँ की विशेषता है ।


Nearest Tirth & Visit Place :

Pavagarh ji(Pawai)- 40km
Barasonji - 40km
Manglaytan – 250km
AAgra-200 km
Kanpur - 200km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

पावागढ़ जी (पवाई )- ४० कि मी
बरासोनजी जी - ४० कि मी
मंगलायतन – २५० कि मी
आगरा -२०० कि मी
कानपूर - २०० कि मी

Nearest Main City:

Bhind -20 km .Itava - 12km Gwalior - 100km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

इटावा - १२कि मी , ग्वालियर -१००कि मी ,भिंड -२०कि मी



























SHREE BAWAN GAJA (ChulGiri) JI , MADHYA PRADESH
 श्री बावन गजा (चूलगिरी ) जी , , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Digamber Jain Siddha Kshetra Chulgiri (Bawangaja). Is Siddha Kshetra.
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिगम्बर जैन सिद्ध क्षेत्र बावन गजा (चूलगिरी )
Tirthkshetra's Address:
Shri Digamber Jain Siddha Kshetra Chulgiri (Bawangaja)
Gram-Bawangaja , District. – Badwani (M.P.). Pin 451551, Website – www.Bawangaja.com  
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिगम्बर जैन सिद्ध क्षेत्र बावन गजा (चूलगिरी )
ग्राम - बावन गजा जिला - बडवानी (मध्य प्रदेश ) पिन कोड -४५१५५१
Telephone No.
07290-291718 ,201884 ,291010 ,9425090384
फ़ोन नंबर :
०७२९० -२९१७१८ ,२०१८८४ ,२९१०१० ,९४२५०९०३८४
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):35 Room(Seprate Bathroom): 00
Hall :04(capacity-50) Guest House: 06
Total Capacity: 300 Canteen/Restaurant : No
Dispensary : No  LIbrary: Yes (Guptisagar Grantalya)

School : Yes

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):३५
कमरा (अलग स्नानघर): ००
हॉल : ०४ (क्षमता -५० )
अतिथि गृह :०६
कुल क्षमता : ३०० भोजनालय : है
औषधालय:नहीं नहीं है पुस्तकालय :है ,गुप्तिसागर ग्रन्थ लय
विद्यालय : है एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Indore-160km , Ujjain, Khandwa-180, Baroda 
Bus stand – Badwani-08km 
Easiest Way:  By Road - Buses are available for Bawangaja from Badwani District Headquater after every 30 minutes.
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : इंदौर , उज्जैन , खंडवा , बरोड़ा
बस स्टैंड : बडवानी ०८ कि मी
पहुचने का सरलतम मार्ग :बसें बड़वानी जिला मुख्यालय से बावन गजा के लिए उपलब्ध हर ३० मिनट के बाद उपलब्ध हैं. बसें इंदौर, उज्जैन, खंडवा, बड़ौदा से बड़वानी लिए उपलब्ध हैं
Managing Committee :

Trust- Shri Digamber Jain Siddha Kshetra Chulgiri Trust ,Bawangaja 
President- Shri Rajkumar Jain  (099937-37000)
Minister- Shri Raj Prakash Pahadiya (09425914345)
Manager- Shri Indrajeet Mandloi(09425090384)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री दिगम्बर जैन सिद्ध क्षेत्र चूलगिरी कमेटी ,बावन गजा
अध्यक्ष:  श्री राजकुमार जैन  (०९९९३७३७००० )
मंत्री: श्री श्री राज प्रकाश पहाड़िया  (०९४२५९१४३४५ )
प्रबन्धक :
श्री श्री इन्द्रजीत मंडलोई (०९४२५०९०३८४ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :33
Hill in tirth kshetra   :   Yes(Total 800 Stairs)
Siddha Kshetra Chulgiri is world famous for its huge magnificent 84 feet high Khadgasana idol of Bhagwan Adinath. The Chulgiri Kshetra is situated on highest peak of Satpura Mountain range. Because of presence of biggest idol this Teerth Kshetra has become exquisite. This is also the “meditation & Nirvan place of Ravan’s son ‘Indrajeet’ & of Ravan’s younger brother ‘Kumbhakaran’ and many other Munies”.The Chulgiri Kshetra has been described as the place of meditation & Nirvan of Kumbhakaran & Indrajeet in ‘Prakrit Nirvankand’. This Kshetra is about 2000 or more years ancient. The main temple of this Kshetra was constructed in the 12th century. The nearby 10 temples were constructed in the 15th century by the percept of Bhattarak Ratnakirti. According to one inscription found here the main temple was constructed in Samvat 1223. But no inscriptions are available regarding the construction of 84 feet high idol. The scholar of 13th century Yati Madan Kirti had mentioned about this idol & also told that ‘Arkakirti’ was the builder of this idol.
 

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ३३
क्षेत्र पर पहाड़ : नहै (कुल - ८०० सीढिया ,ढोली कि व्यवस्था है )हीं है
ऐतिहासिकता :यह एक सिद्ध क्षेत्र है ।यह से इन्द्रजीत व् कुम्भकर्ण आदि साढे पांच करोड़ मुनि मोक्ष गए थे ।यहाँ पहाड़ पर आदिनाथ भगवान् कि २७ मीटर(लगभग ८४ फीट ) की सबसे बड़ी प्रतिमा है ।५२ हाथ ऊँची (किसी काल्मी गज का प्रमाण १ हाथ था )होने के कारण ही इसे बावनगजा क्षेत्र कहते है ।यह मूर्ति १३वि सदी के पहले की है । पर्वत के पास ही मंदोदरी का प्रासाद बना है ।प्रत्येक १२ वर्ष मे यहाँ महामस्तकाभिषेक व् मेला आयोजित होता है ।मूर्तियों पर १२२३,१२५८,१३८० लेख वाली प्रतिमाये है ।मंदिर के पीछे आचर्य कुंद कुंद की खडगासन प्रतिमाये है ।
जिला बड़वानी जैन तीर्थ यात्रा केंद्र चुलगिरि और बावनगजा के लिए मशहूर है।


Nearest Tirth & Visit Place :

Taalanpur- 40km
Pawagiri- 80km
Siddhavarkut – 180km
Pawagarh-220 km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

तालनपुर - ४० कि मी
पवागिरी - ८० कि मी
सिद्धवरकूट – १८० कि मी
पावागढ़ -२२० कि मी

Nearest Main City:

Badwani -08km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

बडवानी ०८ कि मी



























SHREE BHOJPUR , MADHYA PRADESH
 श्री भोजपुर जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Shantinath Digambar Jain Atishaya Kshetra Bhojpur
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री शांतिनाथ दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र भोजपुर
Tirthkshetra's Address:
Shri Shantinath Digambar Jain Atishaya Kshetra Bhojpur
Place & Post – Bhojpur, Subdistrict – Gauharganj, District – Raisen (M. P.) Pin - 464993   
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री शांतिनाथ दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र भोजपुर
ग्राम - भोजपुर तहसील - गोहर गंज जिला - रायसेन (मध्य प्रदेश ) पिन कोड -४६४९९३
Telephone No.
07480-262225 ,09425686438
फ़ोन नंबर :
०७४८० -२६२२२५ ,०९४२५६८६४३८
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 62
Hall :01(capacity-100) Guest House: No
Total Capacity: 1000 Canteen/Restaurant : Yes(paid)
Dispensary : No  LIbrary: No

School : No ,Goshala - Yes,

STD PCO : No
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):००
कमरा (अलग स्नानघर): ६२
हॉल : ०१ (क्षमता -१०० )
अतिथि गृह :नहीं है
कुल क्षमता : १००० भोजनालय : है सशुल्क
औषधालय:नहीं नहीं है पुस्तकालय :नहीं है
विद्यालय : नहीं है ,सन १९९८ मे विद्यासागर गोशाला एसटीडी पीसीओ : नहीं है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Bhopal-30km
Bus stand – Bhopal-30km
Easiest Way:  By Road - Busses & Taxies are available every time for Bhojpur from Bhopal. 
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : भोपाल - ३० कि मी
बस स्टैंड : भोपाल - ३० कि मी
पहुचने का सरलतम मार्ग :भोपाल से बस और टेक्सी उपलब्ध है |
Managing Committee :

Trust-Shri Digambar Jain Atishaya Kshetra Shantinagar Paryatan Kendra Vikas Samiti Bhojpur
President- Shri Manoharlal Tongya (9425011360)
Minister- Sankalpi Shri Lal Chand Jain ( 9425006825) 
Manager- Shri Pankaj Jain(09425681438)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र शांतिनगर पर्यटन केंद्र विकास समिति भोजपुर
अध्यक्ष:  श्री मनोहरलाल टोंग्या (९४२५०११३६०)
मंत्री: श्री संकल्पी श्री लाल चंद जैन ( ९४२५००६८२५ )(०७४८०-२६२२२५ ) 
प्रबन्धक :
श्री पंकज जैन (०९४२५६८१४३८ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :01
Hill in tirth kshetra   :   Yes
Shri Shantinath Digambar Jain Atishaya Kshetra Bhojpur is situated at a distance of 30 km from Bhopal, the capital of Madhya Pradesh, State of India, surrounded by dense forests of Vindhyachal Mountain Range. This Kshetra is famous for miraculous idol of Bhagwan Shantinath (16th Teerthankar) 22½ feet high in standing posture; this was installed here by the consent of ‘King Bhoj’, the famous King of ‘Dhar’ during 11th century. According to the inscription on idol, it was reverenced in year 1100 AD. This Kshetra is related to ‘Acharya Mantunga’, who was the writer of famous ‘Bhaktamar Stotra’. Acharya Mantunga’s place of penance – Siddha-Shila (a flat rock) and his shrine is also here. At the place of shrine, a pair of foot images is reverenced.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१
क्षेत्र पर पहाड़ : हां (टेकडी नुमा )
ऐतिहासिकता :भक्तामर स्तोत्र के रचयिता आचर्य मानतुंग (११ वीं सदी ) की समाधि स्थली है ।समाधि स्थल के निकट जैन मंदिर मे तीर्थंकर शांतिनाथ की साढ़े बाईस फीट ऊँची प्रतिमा है । और इसके दोनों ओर तीर्थंकर पार्श्वनाथ एवं सुपार्श्वनाथ की प्रतिमाये जिनकी ऊंचाई ८ फीट है ।राजा भोज के निर्देशानुसार ये प्रतिमाये सन ११००-११०१ मे स्थापित की गयी थी ।यह पर्यटन स्थल भी है ।पास मई ही बेतवा नदी बहती है ।सिद्दशिला पर भगवान बाहुबली की प्रतिमा है ।

Nearest Tirth & Visit Place :

Jain Mandir Khurana - 14km
Prachin Jain Mandir- 22km


निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

जैन मंदिर कुराना जी - १४ कि मी
प्राचीन जैन मंदिर समसगढ़ - २२ कि मी

Nearest Main City:

Bhopal-30km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

भोपाल - ३० कि मी



























SHREE BHOURASA , MADHYA PRADESH
 श्री भौरासा जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri 1008 Parshvanath Dig. Jain Atishaya Kshetra Bhourasa
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री १००८ पार्श्वनाथ दिग. जैन अतिशय क्षेत्र भौरासा
Tirthkshetra's Address:
Shri 1008 Parshvanath Dig. Jain Atishaya Kshetra Bhourasa
Gram– Bhourasa, Subdistrict – Kurwai, District – Vidisha(M. P.) Pin - 464224  
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री १००८ पार्श्वनाथ दिग. जैन अतिशय क्षेत्र भौरासा
ग्राम - भौरासा तहसील - कुरवाई जिला - विदिशा (मध्य प्रदेश ) पिन कोड -४६४२२४
Telephone No.
07593-247054,247252,247308
फ़ोन नंबर :
०७५९३- २४७०५४ ,२४७२५२ २४७३०८
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):02 Room(Seprate Bathroom): 06
Hall :04(capacity-200) Guest House: No
Total Capacity: 500 Canteen/Restaurant : Yes(Free of charge)
Dispensary : No  LIbrary: Yes

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्):०२
कमरा (अलग स्नानघर): ०६
हॉल : ०४ (क्षमता -२०० )
अतिथि गृह :नहीं है
कुल क्षमता : ५०० भोजनालय : है निशुल्क
औषधालय:नहीं है पुस्तकालय : है
विद्यालय : नहीं है ,सन १९९८ मे विद्यासागर गोशाला एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Mandi Bamora-8 km ,Bina junction -18km.
Bus stand – Kurwai -03km
Easiest Way:  By Road - Busses are available for Bhojpur from Mandi bamora And Bina. 
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : मंडी बामोरा - ८ कि. मी. ,बीना-१८ किं मी.
बस स्टैंड : कुरवाई - ०३ कि मी
पहुचने का सरलतम मार्ग :मंडी बामोरा एवम् बीना से बस उपलब्ध है
Managing Committee :

Trust-Shri 1008 Parshvanath Dig. Jain Atishaya Kshetra Samiti Bhourasa
President- Shri Rajmal Jain,Bhourasa (094256-37436)
Minister- Shri Shilchand Jain ( 098267-20636) 
Manager- Shri Pradeep ji

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री १००८ पार्श्वनाथ दिग. जैन अतिशय क्षेत्र समिति भौरासा
अध्यक्ष:  श्री राजमल जैन,भौरासा ( ०९४२५६-३७४३६)
मंत्री: श्री शीलचंद जैन (०९८२६७-२०६३६)
प्रबन्धक :
श्री प्रदीप जी

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :01
Hill in tirth kshetra   :   No
Shri Prashvanath Digambar Jain Atishaya Kshetra Bhourasa is situated at a distance of 18 km from Bina. This Kshetra is famous for miraculous idol of Bhagwan Parshvanath (23rd Teerthankar) 4½ feet high statue.. According to the inscription on idol, it was reverenced in year 1272 AD.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१
क्षेत्र पर पहाड़ : हां (टेकडी नुमा )
ऐतिहासिकता :यह क्षेत्र बीना से 18 कि. मी की दुरी पर है । भौरंसा पर मंदिर जी मे पार्श्वनाथ भगवान की श्वेत पद्मासन साढ़े चार फुट ऊँची संवत 1272 की प्रतिमा है एवं अन्य कई प्रतिमाये है ।यह क्षेत्र 4000 वर्ग फुट मे विकसित है । भौरंसा एक एहतिहासिक तीर्थ स्थल है |

Nearest Tirth & Visit Place :

Badoh - 40 km
Chanderi - 70km

Udhaygiri -80km

Nasiya ji- 40 km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

बडोह-४० कि. मी.
चंदेरी - ७० कि मी

उदयगिरी - ८० कि मी

नसियाज़ी - ४० कि मी

Nearest Main City:

Bina-18km ,Mandi Bamora-08 km , kurwai - 03 km.

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

मंडी बामोरा - ८ कि. मी. ,बीना-१८ किं मी. ,कुरवाई - ०३ कि मी



























SHREE BIJORI , MADHYA PRADESH
 श्री बिजौरी  जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri 1008 Chandraprabhu Dig. Jain Atishaya Kshetra Bijori
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री १००८ चंद्रप्रभु  दिग. जैन अतिशय क्षेत्र बिजौरी 
Tirthkshetra's Address:
Shri 1008 Chandraprabhu Dig. Jain Atishaya Kshetra Bijori
Gram– Bijori, Subdistrict – Patan ,District – Jabalpur(M. P.) Pin - 464224  
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री १००८ चंद्रप्रभु  दिग. जैन अतिशय क्षेत्र बिजौरी 
ग्राम - बिजौरी  तहसील - पाटन   जिला -जबलपुर (मध्य प्रदेश ) पिन कोड - ४८३११३
Telephone No.
07621-295509 ,295723,272207
फ़ोन नंबर :
०७६२१ -२९५५०९ ,२९५७२३ ,२७२२०७
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):04 Room(Seprate Bathroom): 00
Hall :01(capacity-100) Guest House: No
Total Capacity: 150 Canteen/Restaurant : Yes(Free of charge)
Dispensary : No  LIbrary: No

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०४
कमरा (अलग स्नानघर): ००
हॉल : ०१   (क्षमता -१०० )
अतिथि गृह :नहीं है
कुल क्षमता : १५० भोजनालय : है निशुल्क
औषधालय:नहीं है पुस्तकालय : नहीं है
विद्यालय : नहीं है , एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Madan Mahal,Jabalpur -30 km ,Shridham -25km.
Bus stand –Bijori
Easiest Way:  By Road - Busses are available for Bijori from Jabalpur to chagava road. 
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : मदन महल ,जबलपुर - ३० कि. मी.,श्रीधाम-२५ कि. मी.
बस स्टैंड : बिजौरी 
पहुचने का सरलतम मार्ग : जबलपुर से चरगंवा रोड पर १८ कि. मी. बिजौरी मुख्य  सड़क पर है  
Managing Committee :

Trust-Shri 1008 Chandraprabhu Dig. Jain Atishaya Kshetra Samiti Bhourasa
President- Shri Pavan Kumar  Jain,(07621-272207)
Minister- Shri Dhramchand  Jain ( 07621-272211) 
Manager- Shri Acchelaal Jain(07621-295723)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री १००८ पार्श्वनाथ दिग. जैन अतिशय क्षेत्र समिति बिजौरी 
अध्यक्ष:  श्री पवन  कुमार  जैन ,(०७६२१ -२७२२०७ ) 
मंत्री: श्री धरमचंद  जैन  ( ०७६२१ -२७२२११ ) 
प्रबन्धक :
श्री अच्छेलाल  जैन (०७६२१ -२९५७२३ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :01
Hill in tirth kshetra   :   No
May 22, 1997 given the notice of earthquake to Pawan Kumar's in a dream by Lord Shri Chandra Prabhu.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता : २२ मई १९९७ मे  आये भूकंप कि पूर्व सूचना भगवान् श्री चंद्रप्रभु ने ग्राम निवासी पवन कुमार को सपने में  दे दी थी कि रात्रि में भूकंप आने वाला है खुदे पड़े गड्ढो में कॉलम भरवाकर व्यवस्था बना लो | जो तत्काल कर ली गयी रात में भूकंप  तो   आया लेकिन समव शरण को कोई आंच नहीं आई ,जबकि शिखर सहित बहुत नुकसान हुआ |सन १९९८ मई चोरी कि नियत से आये चर चोर चन्द्र प्रभु कि प्रतिमा उठा भी नहीं सके | उनकी आँखों के आगे अँधेरा छा गया 
| चोर २४ घंटे के अन्दर पुलीस द्वारा पकड़ लिए गए | श्री चन्द्र प्रभु के गर्भ गृह से वाद्यो कि आवाज आती है | कभी कभी आत्री में केसर कि वर्षा भी होती है |

Nearest Tirth & Visit Place :

Madiya ji- 25 km
Koni ji- 55km

Tilwaara Ghat -20km

Bhedaghat 15km

Panagar-45km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

मढिया जी - २५  कि. मी. 
कोनी  जी - ५५ कि मी. 

तिलवारा  घाट  -२० कि.मी. 

भेडा घाट  १५ कि.मी. 

पनागर -४५ कि.मी.

Nearest Main City:

Bina-18km ,Mandi Bamora-08 km , kurwai - 03 km.

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

जबलपुर - ३० कि.मी. , गोटे गोँव -३० कि.मी.



























SHREE BINA (BARHA Ji), MADHYA PRADESH
 श्री बीना जी(बारहा जी )   , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Dig. Jain Atishaya Kshetra Bina ji
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री १००८ चंद्रप्रभु  दिग. जैन अतिशय क्षेत्र बीना जी(बारहा )
Tirthkshetra's Address:
Shri Dig. Jain Atishaya Kshetra Binaji (Barha)
Gram– Bina (Barha) Subdistrict – Devri kalan,District – Sagar(M. P.) Pin - 470226
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री १००८ चंद्रप्रभु  दिग. जैन अतिशय क्षेत्र बीना जी(बारहा )
ग्राम - बीना (बारहा )   तहसील - देबरी कलाँ   जिला - सागर  (मध्य प्रदेश ) पिन कोड - ४७०२२६ 
Telephone No.
07586-250457,280007,09425451153
फ़ोन नंबर :
०७५८६ -२५०४५७ ,२८०००७ ,०९४२५४५११५३
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 85
Hall :04(capacity-100) Guest House: 02
Total Capacity: 700 Canteen/Restaurant : Yes(Free of charge)
Dispensary : No  LIbrary: No

School : No

STD PCO : No
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ००
कमरा (अलग स्नानघर): ८५
हॉल : ०४ (क्षमता -१०० )
अतिथि गृह :०२
कुल क्षमता : ७०० भोजनालय : है निशुल्क
औषधालय:नहीं है पुस्तकालय : नहीं है
विद्यालय : नहीं है , एसटीडी पीसीओ : नहीं है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Sagar-73km , Narsinghpur-85km .
Bus stand –Devri kalan-8km
Easiest Way:  By Road -  Devari Kalan is situated on the Sagar-Narsinghpur highway. Beena Barha is only 8 km away from Devari Kalan. For Kshetra busses & taxies are available
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : सागर - ७३ कि.मी. नरसिंहपुर - ८५कि.मी. 
बस स्टैंड : देबरी कलाँ -०८कि.मी.
पहुचने का सरलतम मार्ग : सागर - देबरी कलाँ - बीनाजी सड़क मार्ग   ,  नरसिंहपुर- देबरी कलाँ - बीनाजी सड़क मार्ग   
Managing Committee :

Trust- Prabandha Karini Committee Shri Digambar Jain Atishaya Kshetra Beenaji (Barha) 
President- Shri Surendra Kumar Sodhia ,(  07586-222224)
Minister- Shri Vimal Kumar Seth ( 07586-250563 ) 
Manager-

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : प्रबंध  कारिणी  कमेटी   श्री  दिगंबर  जैन  अतिशय  क्षेत्र  बीनाजी  (बारहा ) 
अध्यक्ष:  श्री सुरेन्द्र  कुमार  सोधिया ( ०७५८६ - २२२२२४ ) 
मंत्री: श्री विमल  कुमार  सेठ  ( ०७५८६ -२५०५६३  ) 
प्रबन्धक :

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :04
Hill in tirth kshetra   :   No
Shri Digambar Jain Atishaya Kshetra Beena (Barha) is situated near the bank of river ‘Sukh – Chain’, at one end of village Beena in District Sagar (M. P.), surrounded by natural greenery that is charming to eyes. This Kshetra is famous for miraculous idol of Bhagwan Shantinath.This idol of Bhagwan Shantinath in standing posture is deemed miraculous by devotees. So many stories of miracles of this idol are popular here. Jains & other devotees come here to fulfill their desires.The principal deity of this Kshetra - Bhagwan Shantinath’s idol is very famous for various miracles. It is said that a businessman lived in Malkhera often used to go on the route to Beena, while he went through this road; at a particular place he always received a stroke. One day the stroke was powerful. At that night he saw a dream. A gentleman was saying to him to dig at the place of stroke, on digging he will visit the God. That businessman dug that place up to next three days with hard labor. In the night of last day he again saw a dream, that gentleman again appeared in dream and asked him for the viewing of God next day. He added, “You must go in the direction of desired place where you want to install the God (Idol). The God will follow automatically, but you must not look behind. If you look behind, the God will not move further from there.” Next day that pious businessman dig that place, soon he saw the God. After visiting the God he felt great joy & happiness; he worshiped the God a long time. Then, in the state of devotion, he started to his village. After passing a mile of distance, he looked behind to check whether God is following him or not. He saw that God was standing at a little distance from him. He was very happy and again started to wards his village, but now God was not moving, he was standing at the same place.  

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०४ 
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता : विश्व के जैन इतिहास में अन्यत्र कही नही मिलने वाली चुना गारा से निर्मित १६ फीट कि महावीर स्वामी पद्मासन प्रतिमा विराजमान है |इसी के निकट चन्द्र प्रभु भगवान् कि ६ फीट ऊँची प्रतिमा है |भगवान् शांति नाथ की १८ फीट ऊँची प्रतिमा भी है |
गन्धकुटी स्तूप जिनालय ४० सीढियों वाला लाल पत्थर से निर्मित अलोकिक छठा वाला है | भोहरे में भी अनेक जैन प्रतिमाये है

Nearest Tirth & Visit Place :

Pateria – Garha Kota,  Patnaganj – Rahli,  Mariaji – Jabalpur,  Koniji, 


निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

पटेरिया  – गढ़ा  कोटा , पटना गंज – रहली , माडिया जी   – जबलपुर , कोनीजी , 

Nearest Main City:

Devri kalan -08km.

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

देबरी कलाँ -०८कि.मी.





































SHREE CHANDERI JI, MADHYA PRADESH
 श्री चंदेरी जी  , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra Choubeesee Bara Mandir, Chanderi.
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र चौबीसी बड़ा मंदिर , चंदेरी
Tirthkshetra's Address:
Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra Choubeesee Bara Mandir, Chanderi.
Chanderi District – Guna(M. P.) Pin - 473446
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र चौबीसी बड़ा मंदिर , चंदेरी
चंदेरी जिला – गुना (मध्यप्रदेश ) पिन कोड - ४७३४४६
Telephone No.
07547-243058,243118,253297,253282
फ़ोन नंबर :
०७५४७ -२४३०५८ ,२४३११८ ,२५३२९७ ,२५३२८२
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):05 Room(Seprate Bathroom): 19
Hall :03(capacity-250) Guest House: 03
Total Capacity: 1000 Canteen/Restaurant : Yes(Free of charge)
Dispensary : Yes  LIbrary: yes

School : Yes -03

STD PCO : yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०५
कमरा (अलग स्नानघर): १९
हॉल : ०३   (क्षमता -२५० )
अतिथि गृह :०३
कुल क्षमता : १००० भोजनालय : है निशुल्क
औषधालय: है पुस्तकालय : है
विद्यालय : है -०३ एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Lalitpur-36km.,Mungawali-38km,Ashok Nagar-58km.
Bus stand –Chanderi
Easiest Way:  By Road Or Rail
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : ललितपुर -३६कि मी .,मुंगावली -३८कि मी ,अशोक  नगर -५८कि मी . 
बस स्टैंड : चंदेरी
पहुचने का सरलतम मार्ग : रेल व् सड़क   
Managing Committee :

Trust- Shri Dig. Jain Atishaya Kshetra Choubeesee Bara Mandir Trust   
President- Shri GendaLaal Saraf(243058.093016-56320)
Minister- Shri Nirav Hathi Saha(253282)
Manager-

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री  दिग .  जैन  अतिशय  क्षेत्र  चौबीसी  बड़ा  मंदिर  ट्रस्ट  
अध्यक्ष:  श्री  गेंदालाल  सराफ (२४३०५८ .०९३०१६ -५६३२० ) 
मंत्री:  श्री  नीरव  हाथी  शाह  (२५३२८२ )
प्रबन्धक :

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :03
Hill in tirth kshetra   :   No
The Choubeesee Mandir is built in back of old Bara Mandir, actually this has 24 temples with beautiful spires having installed the 24 idols of 24 Teerthankars. These idols are made by the stones of actual colors as the Teerthankar’s color was. In this way this is the only Choubeesee Mandir in India. In this temple, idols of Lord Chandraprabhu & Pushpdant are white, Padmaprabhu & Vasupoojya are reddish, Suparsvanath & Parsvanath are green in colors. Lord Munisuvrit & Neminath are in black colors and remaining 16 idols are in golden or yellowish. All idols are same in dimensions, which is very difficult in real.
These idols were installed in V.S. 1893 in the headship of Bhattaraka Shri Harichand of Sonagiri.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०३
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता : यहाँ चौबीस तीर्थंकरो की अत्यंत कलापूर्ण प्रतिमाये प्रथक - प्रथक गर्भ गृह मे तीर्थंकरो के मूल वर्ण के अनुरूप उसी रंग के पाषाण से निर्मित है | इन प्रतिमाओ की प्रतिष्ठा १८९३ मई हुई थी | मंदिर मे १३वि सदी की अन्य मुर्तिया भी है |
विशेष - जैन म्यूजियम को वर्तमान मे ५० लाख का अनुदान केंद्र सरकार से स्वीकृत हुआ है वहा बूढ़ी चंदेरी की मुर्तिया राकी जाएँगी

Nearest Tirth & Visit Place :

Khandargiri 1 km
Thuvonji 22 km
Saironji 27 km
Golakota Pachrai 50 km
Devgarh 64 km


निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

खंदार गिरी -१कि मी 

थूवोन जी -२२कि मी  

सेरोन जी - २७कि मी  

देव गढ़ - ६४कि मी 

Nearest Main City:

Lalitpur-36km.,Mungawali-38km,Ashok Nagar-58km.

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

ललितपुर -३६कि मी .,मुंगावली -३८कि मी ,अशोक  नगर -५८कि मी . 














































SHREE DRONGIRI JI, MADHYA PRADESH
 श्री द्रोणगिरी  जी  , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Digamber Jain Siddha Kshetra Drongiri.Is an Siddha Kshetra.
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिगम्बर जैन सिद्ध क्षेत्र द्रोणगिरी .
Tirthkshetra's Address:
Shri Digamber Jain Siddha Kshetra Drongiri.
Gram-Sendapa,Subdistrict-Bijavar ,District- Chhatarpur (Madhya Pradesh)Pincode-471331
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिगम्बर जैन सिद्ध क्षेत्र द्रोणगिरी .
ग्राम - सेंधपा ,तहसील -बिजावर ,जिला -छतरपुर (मध्य प्रदेश )पिन कोड -४७१३३१
Telephone No.
07689-280972 , 094251-44006 Siddhyatan-09754156849
फ़ोन नंबर :
०७६८९ -२८०९७२ , ०९४२५१ -४४००६ सिद्धायातन -०९७५४१५६८४९
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):15 Room(Seprate Bathroom): 83
Hall :03(capacity-500) Guest House: 01
Total Capacity: 2000 Canteen/Restaurant : Yes(Free of charge)
Dispensary : Yes  LIbrary: yes

School : Yes

Also Udhasin AAshram And Sant Nivas

STD PCO : yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): १५
कमरा (अलग स्नानघर): ८३
हॉल : ०३   (क्षमता -५०० )
अतिथि गृह :०१
कुल क्षमता :२००० भोजनालय : है निशुल्क
औषधालय: है पुस्तकालय : है
विद्यालय : है ,  उदासीन आश्रम और संत निवास भी है एसटीडी पीसीओ : है
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Lalitpur-120km.,Sagar-117km,Jhansi-175km,Damoh-103km
Bus stand – Busses are available for Drongiri from Bara Malhara, Ghuvara & Teekamgarh.
Easiest Way:  By Road way.
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : ललितपुर -१२०कि मी .,सागर   -११७ कि मी ,झाँसी -१७५ कि मी ,दमोह -१०३ कि मी   . 
बस स्टैंड : बड़ा   मलहरा-०७कि मी ,छतरपुर-१०७ किमी.   और  टीकमगढ़- ६०कि मी. से बस  सुविधा उपलब्ध  
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग 
Managing Committee :

Trust- Shri Dig. Jain Siddha Kshetra Management Committee , Drongiri.
President- Shri Kapoor Chandji Ghuvara (Former M.L.A.) (07683-242712)
Minister- Shri  Bhag Chandji Jain  Pili Dukan, Bara Malhara(07689-252376)
Manager- Shri Pawan Kumar Jain(07689-280972)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री  दिग .  जैन  सिद्ध  क्षेत्र  प्रबंध समिति द्रोण गिरी
अध्यक्ष:  श्री  कपूर  चंदजी  घुवारा   (०७६८३ -२४२७१२ ) 
मंत्री :   श्री  भागचन्दजी  जैन  पिली  दुकान , बड़ा  मलहरा (०७६८९ -२५२३७६ ) 
प्रबन्धक :
श्री  पवन  कुमार  जैन (०७६८९ -२८०९७२ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :03, cave -03
Hill in tirth kshetra   :   Yes
Siddha Kshetra Drongiri is an ancient Nirvan Kshetra (Place of Salvation) which is proved by ancient literature, ancient cave, ancient Jain temples & art of sculpture. Drongiri is described as Nirvan Kshetra of Shri Gurudatta & others so many ascetic saints, by Shri Pujyapad Swamy in Nirvan Bhakti, by Acharya Harishen in Brihat Katha Kosh and in Nirvan Kand. Pujya Shri Ganesh Prasadji Varni has called this place as “Laghu Sammed Shikhar” due to its peaceful natural beauty, clean & healthy environment appropriate for practice of austerity & for self development to achieve supernatural qualities and salvation. 
The large ancient cave, from which Shri Gurudatta & others achieved Moksha (Salvation), was opted for meditation and penance by Charitra Chakravarti Acharya Shri Shanti Sagarji Maharaj in the year V. S. 1929 when he came here. In that night the lion came to his residence (the cave), while he saw the ascetic saint in meditation, he stayed there calmly without harming the Acharya and went to the jungle in the next morning. The event is described in the book “Charitra Chakravarti. 
In the story of Gurudatta & other saints, the cave is said to be residence of lions. (Aradhana Katha Kosh)
On the hill, third temple is Shri Parsvanath temple with principal deity Lord Parsvanath, this idol in cross legged seating posture made of Black Stone very attractive and miraculous. Various desires of pilgrims come true here

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : गुफाये - ०३ चरण पादुकाये -०५ तलहटी मे  ३ मंदिर 
क्षेत्र पर पहाड़ : है (पर्वत राज  पर ३१ मंदिर और २५५ सीढिया है )
ऐतिहासिकता : इस क्षेत्र से गुरुदत्त मुनि सहित साढ़े  आठ करोड़ मुनि ने निर्वाण प्राप्त किया है | पर्वत पर जाने के लिए १७० सीढिया बनी हुई है |पर्वत पर ३५ जिनालय व् ३ गुफाये है |पर्वत के पास २ कुण्ड है जिनका जल सर्दीयो मे गरम एवं गर्मियों में ठंडा रहता है |इस क्षेत्र के दोनों ओर चदाम्क्षिव श्यामारी नमक २ नदिया बहती है |ग्राम मे मुलनायक भगवान् आदिनाथ कि प्राचीन प्रतिमा है |गुरुदत्त निर्वाण गुफा .कांच मंदिर ,चौबीसी मंदिर ,मानस्तंभ दर्शनीय है |

Nearest Tirth & Visit Place :

AAhar ji- 58 km. Papora ji-58km. Nainagiri-88km Khajuraho-104km Kundalpur-147km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

आहार जी - ५८कि मी . पपोरा जी -५८कि मी . नैनागिरी -८८कि मी खजुराहो -१०४कि मी कुण्डलपुर -१४७कि मी

Nearest Main City:

Bara Malhara-07km, Chaatarpur-107km & Teekamgarh-60km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

बड़ा   मलहरा-०७कि मी ,छतरपुर-१०७ किमी.   और  टीकमगढ़- ६०कि मी.













































SHREE ESHURWARA JI, MADHYA PRADESH
 श्री ईशुरवारा   जी  , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri 1008 Shantinath Dig. Jain Atishay Kshetra,Eshurwara
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री १००८ शांतिनाथ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र ,ईशुरवारा
Tirthkshetra's Address:
Shri 1008 Shantinath Dig. Jain Atishay Kshetra,Eshurwara
Gram-Eshurwara,District-Sagar (Madhya Pradesh)Pincode-470115
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री १००८ शांतिनाथ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र ,ईशुरवारा
ग्राम - ईशुरवारा ,जिला -सागर  (मध्य  प्रदेश )पिन कोड  -४७०११५ 
Telephone No.
07582-271196
फ़ोन नंबर :
०७५८२ -२७११९६
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):11 Room(Seprate Bathroom): 07
Hall :02(capacity-100) Guest House: 00
Total Capacity: 200 Canteen/Restaurant : No
Dispensary : No  LIbrary: Yes

School : No

STD PCO : No
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ११
कमरा (अलग स्नानघर): ०७
हॉल : ०२   (क्षमता -१००   )
अतिथि गृह :००
कुल क्षमता :२०० भोजनालय : नहीं है 
औषधालय: नहीं है  पुस्तकालय : है
विद्यालय : नहीं है  एसटीडी पीसीओ : नहीं है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Eshurwara-3.5km
Bus stand – Eshurwara-0.5km ,Kishan pura-3.5km
Easiest Way:    Buses are available from Sagar & Beena Bus Stand
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : ईशुरवारा- ३.५ कि मी . , किशन पुरा- ३.५कि मी 
बस स्टैंड : ईशुरवारा- ०.५कि मी .  
पहुचने का सरलतम मार्ग : सागर और बीना से बस उपलब्ध है |
Managing Committee :

Trust- Shri 1008 Shantinath Dig. Jain Atishay Kshetra Trust ,Eshurwara.
President- Shri Devendra Kumar Jain(07584-283331,09926948940)
Minister- Shri  Munna laal Jain(07582-233598 ,093008-07598)
Manager- Shri Santosh Kumar Jain

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री १००८ शांतिनाथ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र समिति ,ईशुरवारा
अध्यक्ष:  श्री   देवेन्द्र  कुमार  जैन (०७५८४ -२८३३३१  ,०९९२६९४८९४०  ) 
मंत्री :   श्री मुन्ना  लाल   जैन (०७५८२ -२३३५९८  ,०९३००८ -०७५९८ ) 
प्रबन्धक :
श्री   संतोष  कुमार   जैन  

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :02
Hill in tirth kshetra   :   Yes
The birthplace of 108 Muni Shri Sudhasagarji, who is disciple of presently famous Acharya Vidyasagarji Maharaj is not any other place but ‘Ishurvara’ only. 
Ishurvara is situated in the mid part of ‘Vindhyanchal’ mountain range in Sagar District. Ishurvara Atishaya Kshetra is about 400 years ancient. The one magnificent Jinalaya (Temple) was got constructed by famous Shreshthi (Businessman) ‘Panashah’ in V.S. 1662 on one hill of this Kshetra near to this village. This spired Jinalaya is so tall that one can see it rising to the sky. The 9 feet high Khadgasana idols of Teerthankar Bhagwan ‘Shantinath’, Bhagwan ‘Arahnath’ & Bhagwan ‘Kunthunath’ are installed in this temple. They were Chakrawarti & Kamdeo also. 

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०२  ै 
क्षेत्र पर पहाड़ : है | १.५कि मी कच्ची सड़क है |वाहन जाते ह
ऐतिहासिकता : सन १६०० इसवी मे श्री पाणा शाह द्वारा पहाड़ी पर निर्मित जिनमन्दिर है |इसमें शांतिनाथ ,कुन्थु नाथ ,अरह नाथ चंदाप्रभु व् नेमिनाथ भगवान् की खडगासन प्रतिमाये है |धर्मशाला व् पहाड़ी का विकास कार्य प्रगति पर है |मुनि पुंगव श्री १०८ सुधा सागर जी महाराज की जन्म स्थली है |मुख्य मंदिर का दरवाजा १२ फीट ऊँचा कर दिया गया है |

Nearest Tirth & Visit Place :

AAhar ji- 30 km.
Papora ji-30km.

Nainagiri-57 km

Drongiri-100km

Bina Barah - 105km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

आहार जी - ३० कि मी .
पपोरा जी -३०कि मी .
नैनागिरी -५७ कि मी
द्रोण गिरी - १०५  कि मी
बीना बारा -१०५  कि मी

Nearest Main City:

Sagar-25km Khurai-25km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

सागर -२५कि मी  खुरई -२५कि मी 
















































SHREE FALHODI BADAGAON JI, MADHYA PRADESH
 श्री फलहोड़ी   बड़ागाँव    जी  , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri 1008 Dig. Jain Siddha Kshetra,Falhodi Badagaon
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री १००८ दिग . जैन सिद्ध  क्षेत्र ,फलहोड़ी   बड़ागाँव 
Tirthkshetra's Address:
Shri 1008 Dig. Jain Siddha Kshetra,Falhodi Badagaon
Gram-Falhodi-badagaon,District-Teekamgarh (Madhya Pradesh)Pincode-472010
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री १००८ दिग . जैन सिद्ध  क्षेत्र ,फलहोड़ी बड़ागाँव 
ग्राम - फलहोड़ी  बडगांव  ,जिला -टीकमगढ़ (मध्य  प्रदेश )पिन कोड  - ४७२०१० 
Telephone No.
07683-257164 , 09981540725
फ़ोन नंबर :
०७६८३ -२५७१६४ , ०९९८१५४०७२५
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 00
Hall :02(capacity-150) Guest House: 00
Total Capacity: 200 Canteen/Restaurant : No
Dispensary : No  LIbrary: Yes

School : Yes ,Also Udasin AAshram

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ००
कमरा (अलग स्नानघर): ००
हॉल : ०२   (क्षमता - १५० )
अतिथि गृह :००
कुल क्षमता :२०० भोजनालय : नहीं है 
औषधालय: नहीं है  पुस्तकालय : है
विद्यालय : है , उदासीन आश्रम  है    एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Lalitpur-75km ,Damoh -100km , Jhansi-130km.
Bus stand – Badagaon-1/2km
Easiest Way:    Buses are available from Teekamgarh to Sagar.
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : ललितपुर -७५कि मी  ,दमोह  -१००कि मी  , झाँसी -१३०कि  मी . 
बस स्टैंड : बड़ागाँव आधा कि. मी.
पहुचने का सरलतम मार्ग : टीकमगढ़ से सागर राजमार्ग मे 
Managing Committee :

Trust- Shri 1008 Dig. Jain Siddha Kshetra Trust ,Falhodi Badagaon
President- Shri Hukumchand Jain(07683-257077,099268-59556)
Minister- Shri  Munna laal Jain(07683-257276 ,09977016880)
Manager- Shri Saurabh Kumar Jain (099815-40725)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री १००८ दिग . जैन सिद्ध  क्षेत्र समिति ,फलहोड़ी   बड़ागाँव 
अध्यक्ष:  श्री   हुकुमचंद  जैन (०७६८३ -२५७०७७ ,०९९२६८ -५९५५६ ) 
मंत्री :   श्री मुन्ना  लाल   जैन ( ०७६८३ -२५७२७६  ,०९९७७०१६८८० ) 
प्रबन्धक :
श्री   सौरभ  कुमार  जैन  (०९९८१५ -४०७२५ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :03
Hill in tirth kshetra   :   Yes
These ancient temples of Chandelas era were came into picture recently and were renovated as necessary. This is the place of Nirvana of 3 and half Carore Muni (Jain Saints) as Marathi writer Bhattarak Gunkerti write in Tirth Vandana " Falhodi Badagaon Ahoot Koti Siddhasi Namaskar Mangha". There is a wonderful Siddha Gufa (Cave) on the hill just beside the temple. Slowly very difficult historical facts about Falhodi Badagaon Siddh Kshetra are coming in light by research. Many miracles happen here time to time. Here is a mysterious non-violence tank behind the hill, which is called 'Jainerd Talab'. This is the place where hunting and fishing are not possible. Here is a Shiv temple of the age of Chandelas (Similar to the temples in Khajuraho) which proves that all the Jain temples also belongs to Chandela's era. Thousands of faithful and devoted pilgrims come here to have their wishes full filled.  

Other Temple: There are three temples on the hill with five Vedis. There are a very old Siddh Gufa (Cave) and a beautiful Manistam just behind the temples.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०२  ै 
क्षेत्र पर पहाड़ : है | १.५कि मी कच्ची सड़क है |वाहन जाते ह
ऐतिहासिकता : इस क्षेत्र से साढ़े तीन करोड़ मुनियों ने निर्वाण प्राप्त किया है | यह क्षेत्र बुंदेलखंड के तीर्थ क्षेत्रों का केंद्र है इसके चारो ओर २५कि मी के अंतराल मे प्राचीन जिन मंदिर एवं तीर्थ क्षेत्र स्थित है | आचार्य श्री १०८ विद्यासागर जी की प्रेरणा से ५ फीट के कमलासन पर ११.२५ फीट कि आदिनाथ भगवान् की प्रतिमा है |
वार्षिक मेला :- महावीर जयंती पर

Nearest Tirth & Visit Place :

AAhar ji- 25 km.
Papora ji-25km.

Nainagiri-70 km

Drongiri-32km

Navagarh- 07km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

आहार जी - २५ कि मी . पपोरा जी - २५ कि मी . नैनागिरी -७० कि मी द्रोण गिरी - ३२ कि मी नवागढ़- ०७कि मी

Nearest Main City:

Tikamgarh-30km Sagar-100km.

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

टीकमगढ़ - ३०कि मी 

सागर-१००कि मी 
















































SHREE GANDHARVPURI JI, MADHYA PRADESH
 श्री गन्धर्व पूरी  जी  , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Sankat Haran Gandharvpuri 1008 Parshvanath Dig. Jain Tirth Kshetra
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री संकट हरण गंधर्वपुरी १००८ पार्श्वनाथ दिग . जैन तीर्थ क्षेत्र
Tirthkshetra's Address:
Shri Sankat Haran Gandharvpuri 1008 Parshvanath Dig. Jain Tirth Kshetra
Gram-Gandhravpuri,Subdistrict-Sonkach ,District-Devas (Madhya Pradesh)
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री संकट हरण गंधर्वपुरी १००८ पार्श्वनाथ दिग . जैन तीर्थ क्षेत्र
ग्राम - गंधर्वपुरी , तहसील - सोनकच्छ   ,जिला - देवास  (मध्य  प्रदेश )
Telephone No.
07270-277173 , 09993836876
फ़ोन नंबर :
०७२७० -२७७१७३ , ०९९९३८३६८७६
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 02
Hall :00 Guest House: Yes
Total Capacity: 50 Canteen/Restaurant : No
Dispensary : No  LIbrary: No

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ००
कमरा (अलग स्नानघर): ०२
हॉल : ००
अतिथि गृह :है
कुल क्षमता :५० भोजनालय : नहीं है 
औषधालय: नहीं है  पुस्तकालय : नहीं है 
विद्यालय :नहीं है  , संग्रहालय : है  एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Dewas-45km ,Indore-80km
Bus stand – Gandarvpuri
Easiest Way:    Buses are available from Dewas , Indore -Bhopal Marg
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : देवास - ४५कि मी , इंदौर - ८०कि मी 
बस स्टैंड : गंधर्वपुरी
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग वह्या देवास ,इंदौर-भोपाल मुख्य मार्ग मे 
Managing Committee :

Trust- Sankat Haran Gandharvpuri 1008 Parshvanath Dig. Jain Tirth Kshetra Trust
President- Shri Ratanlaal Jain
Minister- Shri Kalpit Jain(072790-277173 ,0993836876)
Manager- Bindu Jain (277173)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : संकट हरण गंधर्वपुरी १००८ पार्श्वनाथ दिग . जैन तीर्थ क्षेत्र समिति
अध्यक्ष:  श्री   रतनलाल  जैन
मंत्री :   श्री कल्पित  जैन (०७२७९० -२७७१७३  ,०९९३८३६८७६ ) 
प्रबन्धक :
श्री   बिंदु  जैन  (२७७१७३ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :01
Hill in tirth kshetra   :   No
For some time Lord mahavir stay here.Gandharwpuri visions of archeology's most important places in Madhya Pradesh.The Jain Murti are scattered here It is a symbol of that it will be a great city and business destination for Jain's.Former Chief Minister Dr. Kailash Nath establishment of the Archaeological Museum here. 1 Statue is 12 feet tall and 4 feet wide. Lime and thin brick temple is 250 years old.The main Idol is lord Parshvanath.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१
क्षेत्र पर पहाड़ :  नहीं है 
ऐतिहासिकता : यहाँ पर भगवान् महावीर विराजे थे | पुरातत्व के द्रष्टि कोण से मध्य प्रदेश मे गंधर्वपुरी का अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान है | यहाँ वहां जैन प्रतिमाये बिखरी हुई है ,जो इस बात का प्रतीक है कि यहाँ एक बड़ा नगर और व्यापारिक स्थल रहा होगा | पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. कैलाश नाथ ने यहाँ पुरातत्व संग्रहालय की स्थापना करवाई | १ मूर्ति १२ फूट लम्बी और ४ फूट चोडी है |चूने एवं पतली ईंट का बना मंदिर लगभग २५० साल पुराना है | इस मंदिर मे पार्श्वनाथ भगवान् की मूल प्रतिमा है |जो की संकट हरण गंधर्वपुरी के नाम से विख्यात है | खुदाई करने पर पत्थर के बने हुए मंदिर एवं सीढिया मिलती है |यहाँ पुरातत्व पर शोध करने के लिए बहार से अनेक विद्वान आते है |
वार्षिक मेला : पोष वादी ग्यारस को भगवान् पार्श्वनाथ के जन्म दिवस पर


Nearest Tirth & Visit Place :

Pushpgiri ji- 13 km.
Banedia ji-75km.

Babangaja (chulgiri) -222km

Maksi -75km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

पुष्प गिरी जी - १३कि मी .
बनेडिया जी -७५कि मी.
बबन गजा (चूलगिरी ) -२२२कि मी
मक्सी -७५कि मी

Nearest Main City:

Sonkach - 09km.

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

सोनकच्छ   -०९कि मी 















































SHREE GOLAKOT JI, MADHYA PRADESH
 श्री गोलाकोट  जी  , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Dig. Jain Atishay Kshetra ,Shri Golakot ji.
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र,श्री गोलाकोट जी
Tirthkshetra's Address:
Shri Dig. Jain Atishay Kshetra ,Shri Golakot ji.
Subdistrict-Khaniya Dhana,District-Shivpuri (Madhya Pradesh)Pin code-473990
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र,श्री गोलाकोट जी
तहसील -खनियाधाना जिला - शिवपुरी    (मध्य  प्रदेश ) पिन कोड -४७३९९० 
Telephone No.
07497-235419 , 235670 ,09926586909
फ़ोन नंबर :
०७४९७ -२३५४१९ , २३५६७० ,०९९२६५८६९०९
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 03
Hall :01 Guest House: No
Total Capacity: 60 Canteen/Restaurant : No
Dispensary : No  LIbrary: No

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ००
कमरा (अलग स्नानघर): ०३
हॉल : ०१
अतिथि गृह :नहीं है 
कुल क्षमता :६० भोजनालय : नहीं है 
औषधालय: नहीं है  पुस्तकालय : नहीं है 
विद्यालय :नहीं है एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Basai(Between Lalitpur-Babina) -45km
Bus stand – Khaniyadhana-10km,Gram-Gudar-03km
Easiest Way: Road way vya Khaniyadhana 
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : बसई (ललितपुर और बबीना के मध्य )-४५कि मी 
बस स्टैंड : खनियाधाना-१०कि मी ,ग्राम - गुडर - ३कि मी 
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग वह्या खनियाधाना
Managing Committee :

Trust- Shri Shantinath Chourasi Dig. Jain Mandir Trust,Khaniyadhana
President- Shri Nathuram Jain(07497-235428)
Minister- Shri Tarachand Jain (07497-235670)
Manager- Shri Shyam Laal Jain(07497-235679)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री  शांतिनाथ  चौरासी  दिग .  जैन  मंदिर  समिति ,खनियाधाना  
अध्यक्ष:  श्री  नाथूराम  जैन (०७४९७ -२३५४२८ ) 
मंत्री :   श्री  ताराचंद  जैन  (०७४९७ -२३५६७० ) 
प्रबन्धक :
श्री  श्याम  लाल  जैन (०७४९७ -२३५६७९ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :02
Hill in tirth kshetra   :   Yes
Main Idol Is Shri 1008 AAdinath Bhagwaan.It is old from Lord Mahavira rule.From excessive iconoclasm which was immediately punished.Here From drinking the Babri water various diseases was far away.Fair And Vimanotshav is held on Jan 15 .

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०२
क्षेत्र पर पहाड़ :  है 
ऐतिहासिकता : विन्ध्य पर्वतमाला पर प्रकृति की सुरम्य गोद में स्थित चतुर्थकालीन मंदिर की दो दालानों मे   मुलनायक  आदिनाथ की प्रतिमा सहित अनेक दिव्य ,भव्य एवं बोलती पाषाण प्रतिमाये ,भगवान् महावीर के शासन काल के पूर्व की विराजमान है | जिनके अतिशय से मूर्तिभंजक तत्काल दण्डित हुए | यहाँ अतिशय युक्त बाबड़ी का जल पीने से अनेकों रोग दूर हो जाते है | मेला एवं विमनोत्सव हर साल १५ जन. को होता है  | पहाड़ी पर चार दिवारी में मंदिर है उसमे ११९ प्रतिमाये है जो की दर्शनीय एवं मनोज्ञ है  |


Nearest Tirth & Visit Place :

Chanderi ji- 13 km.
Thubon ji-85km.

Sonagiri -222km

Khaniyadhana -10km

Seron Ji-70km

Pachrai-30km.

Pawaji -65km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

चंदेरी  जी - १३कि  मी . 
थुबोन   जी -८५कि मी .
सोनागिरी  -२२२कि मी  
सेरोन जी -७०कि मी
पचराई -३०कि मी .
पवा जी -६५कि मी
खनियाधाना  -१०कि मी  

Nearest Main City:

Khaniyadhana -10km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

खनियाधाना  -१०कि मी  














































SHREE GOMMATGIRI JI, MADHYA PRADESH
 श्री गोम्मटगिरी    जी  , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Bhagwaan Bahubali Dig. Jain Trust ,GommatGiri.
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री बाहुबली दिग . जैन ट्रस्ट ,गोम्मटगिरी
Tirthkshetra's Address:
Bhagwaan Bahubali Dig. Jain Trust ,GommatGiri,
Tehshil-Depalpur,District-Indore (Madhya Pradesh)Pin code-453111
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री बाहुबली दिग . जैन ट्रस्ट ,गोम्मटगिरी
तहसील - देपालपुर   जिला - इंदौर   (मध्य  प्रदेश ) पिन कोड -४५३१११ 
Telephone No.
0731-2882251,Dhramshala-2882650
फ़ोन नंबर :
०७३१ -२८८२२५१ ,धर्मशाला -२८८२६५०
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):25 Room(Seprate Bathroom): 10 Dhramshala
Hall :04(Capacity-350) Guest House: 04
Total Capacity: 1000 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : No  LIbrary: Yes

School : Yes

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): २५
कमरा (अलग स्नानघर): १० धर्मशाला
हॉल : ०४ (यात्री क्षमता-३५० )
अतिथि गृह : ०४
कुल क्षमता : १०००  भोजनालय : है , गोम्मटेश भोजनालय सशुल्क  
औषधालय: नहीं है  पुस्तकालय : है 
विद्यालय : है एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Indore-15km
Bus stand – Indore-10kmSarvate Bus Stand-15km.
Easiest Way: By Road From Indore
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : इंदौर -१५कि मी 
बस स्टैंड : इंदौर -१०कि मी ,ग्राम - गुडर - ३कि मी 
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग इंदौर से बस ,टेक्सी ,टेम्पो नगर सेवा सिटी बस उपलब्ध 
Managing Committee :

Trust- Bhagwaan Bahubali Dig. Jain Trust ,GommatGiri.
President- Shri PadmShri Babulaal patodi ,Indore(0731-2780008)
Minister- Shri Punamchand Gangwal(0731-2459994)
Manager- Shri Vijaykumar Jain(0731-2882251)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री बाहुबली दिग . जैन ट्रस्ट ,गोम्मटगिरी
अध्यक्ष:  श्री   पद्मश्री  बाबूलाल  पाटोदी  ,इंदौर (०७३१ -२७८०००८ ) 
मंत्री :   श्री  पूनमचंद  गंगवाल (०७३१ -२४५९९९४ ) 
प्रबन्धक :
श्री   श्री  विजयकुमार  जैन (०७३१ -२८८२२५१ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra :24 Temple,Bahubali Murti,AAdinath Temple-03,
                                          Mahaveer Temple-01,01 AAdinath Temple in foothill.
Hill in tirth kshetra   :   Yes(110 Stairs And Vechile Facilty)
Gomatgiri is a small hillock near Indore. It is situated amidst picturesque surroundings. Just 10 minutes drive from the Indore airport, Gomatgiri is a pious place for the Jain religion devotees. There is a 21 feet statue of Gomateshwar built here. It is a replica of the Bahubali statue of Shrawanbegola. There are also 24 marble temples with shikhars. Each one of these temples is dedicated to the one of the 24 Tirthankaras of Jain religion. This hillock was donated to the Jain Samaj by the M.P government in 1981. For the convenience of the visitors, there is a guest house, a dharamshala and a restaurant here. 

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : २४ मंदिर ,बाहुबली प्रतिमा ,आदिनाथ मंदिर -०३ , महावीर मंदिर -०१ ,
०१ आदिनाथ मंदिर तलहटी मे
क्षेत्र पर पहाड़ :  है  (पहाड़ पर जाने ११० सीढिया है)वहान जाते है  
ऐतिहासिकता : आचार्य श्री विद्यानन्द जी महाराज की प्रेरणा से यह क्षेत्र निर्मित हुआ है |सन १९८६ मे आच्रार्य श्री  विद्यानन्द जी,आचार्य श्री विमल सागर जी एवं अनेक मुनिराजो के सानिध्य मे पंचकल्याणक प्रतिष्ठा संपन्न कर भगवान् बाहुबली की विशाल प्रतिमा २१ फीट ऊँची ओर वर्तमान चौबीसी जिनालय की स्थापना की गयी | यह क्षेत्र अति सुन्दर ,मनोहारी एवं आधुनिक सुविधाओ से परिपूर्ण है | त्रिकाल चौबीसी की रत्नों की प्रतिमाये दर्शनीय है |तलहटी मे भी जिनालय है|इसके आलावा इंदौर शहर मे भी अनेक भव्य जिनालय है |

Nearest Tirth & Visit Place :

Banediya ji- 33 km.
Makshi Parshvnath ji-80km.

Pushpgiri -80km

Siddhvarkut -90km

Navgrah Jinalay -03km

Kaanch Mandir

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

बनेडिया  जी - ३३  कि मी . 
मक्सी  पार्श्वनाथ  जी -८०कि मी . 
पुष्प गिरी   -८०कि मी  
सिद्ध्वर  कूट -९०कि मी  
नवग्रह  जिनालय  -०३ कि मी  
कांच  मंदिर  

Nearest Main City:

Indore-10km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

इंदौर -१०कि मी  














































SHREE GOPACHAL PARWAT JI, MADHYA PRADESH
 श्री गोपाचल पर्वत    जी  , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Dig. Jain Atishay Kshetra,Gopachal Parwat.
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र ,गोपाचल पर्वत
Tirthkshetra's Address:
Shri Dig. Jain Atishay Kshetra,Gopachal Parwat. Parshvanath Vanasthali, Gopachal Marg,
Near Phool Bagh, Gwalior (Madhya Pradesh)Pin code-474002
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री  दिग . जैन  अतिशय  क्षेत्र ,गोपाचल  पर्वत  , पार्श्वनाथ  वनस्थली , गोपाचल  मार्ग , 
 फूल  बाग के  पास , ग्वालियर  (मध्य  प्रदेश )पिन  कोड -४७४००२ 
Telephone No.
0751-2427778 , 2410964
फ़ोन नंबर :
०७५१ -२४२७७७८ , २४१०९६४
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 00
Hall :00(Capacity-00) Guest House: 00 ,Dhramshala in lashkar
Total Capacity: 00 Canteen/Restaurant : No
Dispensary : No  LIbrary: Yes

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०० 
कमरा (अलग स्नानघर): ०० 
हॉल : ००  (यात्री क्षमता-००  )
अतिथि गृह : ०० ,लश्कर मे सर्व सुविधा संपन्न   धर्मशाला
कुल क्षमता : ००  भोजनालय :नहीं है 
औषधालय: नहीं है  पुस्तकालय : है 
विद्यालय :नहीं है  एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Gwalior -02km
Bus stand – Gwalior -02km
Easiest Way: By Road And Rail way.
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : ग्वालियर - ०२कि मी 
बस स्टैंड : ग्वालियर - ०२ कि मी 
पहुचने का सरलतम मार्ग : रेल व् सड़क मार्ग दोनों
Managing Committee :

Trust- Shri Dig. Jain Atishaya Kshetra Gopachal Parvat Sanrakshak Nyas 
President- Shri Shyam Lal Jain Vijayvergiya  (0751-6536647)
Minister- Shri Ajit Baraiya  (0751-2431000,2432000)
Manager- Shri Anil Shah(0751-2632226,2420179)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री  दिग . जैन  अतिशय  क्षेत्र ,गोपाचल  पर्वत , संरक्षक न्यास 
अध्यक्ष:  श्री   श्याम  लाल  जैन  विजय वेर्गीय (०७५१ -६५३६६४७ )   
मंत्री :   श्री   अजित  बरैया  (०७५१ -२४३१००० ,२४३२००० ) 
प्रबन्धक :
श्री अनिल  शाह (०७५१ -२६३२२२६ ,२४२०१७९ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 02 Temple in foothill. 26 Idol in caves
Hill in tirth kshetra   :   Yes(50 Stairs)
Gopachal Atishaya Kshetra is situated in fort of Gwalior, famous for great magnificent idols. This is one among the ancient forts of India and is said the gateway to Southern India from north. 
Number of idols on this hill is about 1500, which includes the size from 6 inch to 57 feet in height. All the idols are carved by cutting the hilly rocks (rock carving) and are very artistic. So the whole of fort seems a vast temple of Jain idols. More of the idols were made in the period of King Dungar Singh & Keerti Singh of Tomar dynasty. Period of these idols is said between V.S. 1398 to V.S. 1536. 
The vastness & beauty of these idols shows the proficiency of artists. 
Here is a very beautiful & attractive miraculous colossus of Bhagwan Parsvanath in cross legged seating posture 42 feet in height & 30 feet in breadth. It is said that in V.S. 1557, Mughal emperor Babar after occupying the fort ordered his soldiers to break the idols, when soldiers stroked on the thumb, a miracle was seen and invaders were compelled to run away. 
Gopachal is the place of precept by Bhagwan Parsvanath and is also the place of salvation of Shri 1008 Supratishtha Kevali. 
In the period of Mughals the idols were destroyed mercilessly, broken fragments of those idols are spread here & there in the fort. Main colossus of this Kshetra is Lord Parsvanath’s, 42 feet high and 30 feet wide, all-round beautiful & miraculous, unique in world

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : तलहटी मे २ जिनालय व् २६ गुफा मे मुर्तिया है 
क्षेत्र पर पहाड़ :  है  (पहाड़ पर जाने ५० सीढिया है)
ऐतिहासिकता : यह क्षेत्र भगवान् पार्श्वनाथ की देशना स्थली , सुप्रतिष्ठित केवली की निर्वाण स्थली होने के साथ पर्वत पर २६ जिनालयो के अन्दर छोटी बड़ी डेढ़ हजार मुर्तिया है |गुफा नंबर १० मे भगवान् पार्श्वनाथ की पद्मासन ४२ फुट ऊँची ३० फुट चोडी प्रतिमा है| १३९८ से १५३६ के मध्य पर्वत को तराशकर ये मुर्तिया बनायीं गयी थी |मुग़ल आतताइयो द्वारा मुर्तिया खंडित की गयी | पार्श्वनाथ प्रतिमा पर वार करने से चमत्कार हुआ ओर विध्वंशक भाग गए |

Nearest Tirth & Visit Place :

Sonagir ji- 70 km.
Shivpuri ji-115km.

AAgra-115km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

सोनागिर जी - ७०कि मी
शिवपुरी -११५कि मी .
आगरा -११५कि मी

Nearest Main City:

Gwalior -02km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

ग्वालियर - ०२ कि मी 














































SHREE GUDAR JI, MADHYA PRADESH
 श्री गूडर   जी  , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Abhinandannath Dig. Jain Mandir Trust,Gudar
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री अभिनंदननाथ दिग. जैन मंदिर ट्रस्ट , गूडर
Tirthkshetra's Address:
Shri Abhinandannath Dig. Jain Mandir Trust,Gudar
Gram-Gudar,Tehsil-Khaniyadhana,District-Shivpuri (Madhya Pradesh)Pin code-473990
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री अभिनंदननाथ दिग. जैन मंदिर ट्रस्ट , गूडर
  ग्राम - गूडर   तहसील - खनियाँधाना जिला -शिवपुरी  (मध्य  प्रदेश )पिन  कोड -४७३९९० 
Telephone No.
07497-235479 ,235470 ,09926646551
फ़ोन नंबर :
०७४९७ -२३५४७९ ,२३५४७० ,०९९२६६४६५५१
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 03
Hall :00(Capacity-00) Guest House: 00 ,
Total Capacity: 25 Canteen/Restaurant : No
Dispensary : Yes  LIbrary: No

School : Yes

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०० 
कमरा (अलग स्नानघर): ०३ 
हॉल : ००  (यात्री क्षमता-००  )
अतिथि गृह : ०० ,लश्कर मे सर्व सुविधा संपन्न   धर्मशाला
कुल यात्री क्षमता : २५ भोजनालय :नहीं है 
औषधालय: है  पुस्तकालय : नहीं है 
विद्यालय :है  एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Basai -50km(Between Jhansi - Lalitpur)
Bus stand – Khaniyadhana -08km
Easiest Way: By Road Way Vya Khaniyadhana
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : बसई - ५०कि मी. (झाँसी ललितपुर के मध्य)
बस स्टैंड :  खनियाँधाना -०८ किमी. 
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग व्हाया  खनियाँधाना होकर 
Managing Committee :

Trust- Shri Abhinandannath Dig. Jain Mandir Trust,Gudar
President- Shri Shyam Lal Jain Choudhry  (07497-235470,235479)
Minister- Shri Rajendra Jain (0997780815)
Manager- Shri Ashok Kumar Jain

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री अभिनंदननाथ दिग. जैन मंदिर ट्रस्ट , गूडर
अध्यक्ष:  श्री   श्यामलाल जैन चौधरी (०७४९७-२३५४७० ,२३५४७९ )  
मंत्री :   श्री  राजेंद्र  जैन  (०९९७७८०८१५ ) 
प्रबन्धक :
श्री  अशोक  कुमार  जैन 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 01
Hill in tirth kshetra   :  No
The Main Idol is Abhinandan Nath Bhagwaan. Main Idol is 12th century.Manstambh And Other Idol is also very ancient.Present Temple is 16th Century.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१ 
क्षेत्र पर पहाड़ :  नहीं है 
ऐतिहासिकता : मुलनायक  भगवान् अभिनन्दन नाथ जी है | यह प्रतिमा १२ वी सदी की है | मानस्तंभ व् अन्य प्रतिमाये भी काफी प्राचीन है | औरंगजेब के आक्रमण  के समय  प्रतिमाओं को अन्य स्थानों पर छिपा दिया गया था | वर्तमान मंदिर १६ वी सदी का है जिसमे इन प्रतिमाओं को विराजित किया गया है | 

Nearest Tirth & Visit Place :

Shri Golakoth ji- 2.5 km.
Nandisvar Jain Mandir

Khaniyadhana-08km.

Pachrai-28km.

Thuvon ji -85km

Chanderi

Choubisi -Khandar ji -63km.

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

श्री  गोलाकोट  जी - २ .५ कि मी . 
नन्दीश्वर  जैन  मंदिर 
खनियाधाना -०८ कि मी .

पचराई -२८ कि मी . 

थूवोन   जी  -८५ कि मी  

चंदेरी  

चौबीसी  -खंदार जी  -६३कि मी . 

Nearest Main City:

Khaniyadhana-08km.

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

खनियाधाना -०८ कि मी .




















































SHREE GWALIOR SWARNA MANDIR JI, MADHYA PRADESH
 श्री ग्वालियर  स्वर्ण  मंदिर    जी  , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri 1008 Parshvanath Dig. Jain Terapanthi Panchayti Bada Mandir
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री १००८ पार्श्वनाथ दिग . जैन तेरापंथी पंचायती बड़ा मंदिर
Tirthkshetra's Address:
Shri Abhinandannath Dig. Jain Mandir Trust,Gudar
Gast Ka tajiya,Dindvaana oli LAshkar Gwalior (Madhya Pradesh)Pin code-474001
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री १००८ पार्श्वनाथ दिग . जैन तेरापंथी पंचायती बड़ा मंदिर
गस्त का ताजिया ,डीड वाना ओली लश्कर ग्वालियर (मध्य  प्रदेश )पिन  कोड -४७४००१
Telephone No.
0751-2433727
फ़ोन नंबर :
०७५१ -२४३३७२७
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 06
Hall :01(Capacity-25) Guest House: 00 ,
Total Capacity: 50 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : No  LIbrary: Yes,800 Jinvani

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०० 
कमरा (अलग स्नानघर): ०६
हॉल : ०१   (यात्री क्षमता-२५  )
अतिथि गृह : ०० 
कुल यात्री क्षमता : ५० भोजनालय :है 
औषधालय: नहीं है  पुस्तकालय : है  ८०० शास्त्र
विद्यालय :नहीं है  एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Gwalior -04km
Bus stand –Gwalior -04km
Easiest Way: By Railway Delhi-Mumbai ,Delhi -Chenai
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : ग्वालियर - मंदिर से ०४ कि मी 
बस स्टैंड :   ग्वालियर - मंदिर से ०४ कि मी 
पहुचने का सरलतम मार्ग : दिल्ली - मुंबई , दिल्ली - चेन्नई ,मुख्य रेल मार्ग पर 
Managing Committee :

Trust- Shri 1008 Parshvanath Dig. Jain Terapanthi Panchayti Bada Mandir
President- Shri Anil Kumar Shah (0751-24201790, 09425109226 )
Minister- Shri Sanjay Kumar(0751-2431016 , 09425114479 )
Manager- Shri Devendra Jain

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री १००८ पार्श्वनाथ दिग . जैन तेरापंथी पंचायती बड़ा मंदिर
अध्यक्ष:  श्री   अनिल शाह (०७५१ -२४२०१७९० , ०९४२५१०९२२६ )
मंत्री :   श्री    संजय भौंच  (०७५१ -२४३१०१६ , ०९४२५११४४७९ )
प्रबन्धक :
श्री  देवेन्द्र जैन

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 01
Hill in tirth kshetra   :  No
The Golden Temple was built in 1761 bhadon Sudi 2. and it took the completion of nearly 45 years.Which of the finest craftsmen, architects and society Sreshtiaon their hard work, passion and have the privilege of Allegiance.In the construction of this temple is said to cater Sreshtion then use the 80 kg gold Swarnkla had to refine and enhance.The Main idol is lord Parshvanath.This statue is established in Era 1212.Now a days Total no. of jain murti is 163 in this temple including silver, coral, crystal stone, slate, stone, test, and black and white marble stone.For more Details Click http://jainswarnmandir.com/

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१ 
क्षेत्र पर पहाड़ :  नहीं है 
ऐतिहासिकता : इस मंदिर जी का निर्माण भादों सुदी २ संवत १७६१ में हुआ एवं इसको अपनी पूर्णता में लगभग ४५ साल का समय लगा, जिसमे उस समय के श्रेष्ठतम कारीगरों, वास्तुविदों एवं समाज के श्रेष्टियों ने अपने अथक परिश्रम, लगन एवं निष्ठां का सौभाग्य प्राप्त किया | कहा जाता है क़ि इस मंदिर जी के निर्माण में तत्कालीन श्रेष्ठियों ने २ मन सोने का उपयोग स्वर्णकला को निखारने एवं संवारने में किया था | इस मंदिर जी में मूल नायक भगवान श्री १००८ पार्श्वनाथ जी क़ि प्रतिमा है जो क़ि संवत १२१२ में प्रतिष्ठित है |इस मंदिर जी में वर्तमान में १६३ मूर्तिया है, जिनमे चांदी, मूंगा, स्फटिक मणि, स्लेट, पाषाण, कसौटी, संगमरमर तथा श्याम श्वेत पाषाण की है जो क़ि १ इंच से लेकर ५ फीट ६ इंच अवगाहना की खडगासन तथा पदमासन एवं त्रिकाल चौबीसी के साथ विराजमान हैं | जिनमें एक मूर्ती सहस्त्र फणी भगवान पार्श्वनाथकी हैजो क़ि श्यामवर्ण की है ! श्री मंदिर जी में कुल ६ वेदियां एवं एक कलापूर्ण समवशरण है जिसमें स्वर्ण चित्रकारी का काम अत्यधिक कलाविज्ञ कलाकारों द्वारा सोने की कलम से बहुत ही बारीकी से किया गया है|अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे http://jainswarnmandir.com/

Nearest Tirth & Visit Place :

Shri Gopachal Parvat- 03 km.
Sonagiri - 65km

Shri Shioniya Siddha Kshetra - 60 km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

गोपाचल पर्वत - ०३कि मी .
सोनागिर - ६५कि मी.

श्री सिंहोनिया सिद्ध क्षेत्र - ६० कि.मी 

Nearest Main City:

Gwalior

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

ग्वालियर














































SHREE GYARASPUR JI, MADHYA PRADESH
 श्री ग्यारसपुर  जी  , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri 1008 Dig. Jain Atishay Kshetra Choubisi Mandir,Gyaraspur
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री १००८ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र चौबीसी मंदिर ,ग्यारसपुर
Tirthkshetra's Address:
Shri 1008 Dig. Jain Atishay Kshetra Choubisi Mandir,Gyaraspur
Village-Gyaraspur District-Vidisha (Madhya Pradesh)Pin code-464331
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री  १००८  दिग . जैन  अतिशय  क्षेत्र  चौबीसी  मंदिर ,ग्यारसपुर  
ग्राम - ग्यारसपुर ,जिला - विदिशा (मध्य  प्रदेश )पिन  कोड -  ४६४३३१ 
Telephone No.
075596-263222
फ़ोन नंबर :
०७५५९६ -२६३२२२
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 02
Hall :01(Capacity-15) Guest House: 00
Total Capacity: 25 Canteen/Restaurant : No
Dispensary : Yes  LIbrary: No

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०० 
कमरा (अलग स्नानघर): ०२
हॉल : ०१   (यात्री क्षमता-१५  )
अतिथि गृह : ०० 
कुल यात्री क्षमता : २५ भोजनालय :नहीं है 
औषधालय: है  पुस्तकालय : नहीं है 
विद्यालय :नहीं है  एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Vidisha -37km
Bus stand –Gyaraspur
Easiest Way: By Bus from vidisha
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : विदिशा  - ३७ कि मी 
बस स्टैंड :   ग्यारसपुर  
पहुचने का सरलतम मार्ग : दिल्ली - मुंबई , दिल्ली - चेन्नई ,मुख्य रेल मार्ग पर 
Managing Committee :

Trust- Shri 1008 Dig. Jain Atishay Kshetra Choubisi Mandir trust,Gyaraspur
President- Shri Narendra Kumar Jain
Minister- Shri Hukumchand Jain(07596-263101 )
Manager- Shri Surendra Kumar Goyal(07596-263246)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री  १००८  दिग . जैन  अतिशय  क्षेत्र  चौबीसी  मंदिर कमेटी  ,ग्यारसपुर  
अध्यक्ष:  श्री नरेन्द्र  कुमार  जैन 
मंत्री :   श्री हुकुम चंद  जैन (०७५९६ -२६३१०१  ) 
प्रबन्धक :
श्री  सुरेन्द्र  कुमार  गोयल (०७५९६ -२६३२४६ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 01
Hill in tirth kshetra   : Yes
The temple is located on a hill, 1.6 km from the bus stand. This Pratihara period temple is constructed on the eastern slope of the hill. This is partly rock-cut and partly structural. Ornamented with Jaina Yaksha, Yakshini and Jina Tirthankar images, the sanctum door jambs have Ganga, Yamuna and other Hindu deities. Inside the sanctum are placed four Jina Tirthankar images, seated on padmasana. There is a sikhara above the sanctum, where Vaishnavi, seated on Garuda, is placed.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१ 
क्षेत्र पर पहाड़ :  है 
ऐतिहासिकता : इस क्षेत्र पर अतिशय कारी चौबीसी जिन बिम्ब विद्यमान है |१० वी शताब्दी का दिग. जैन मंदिर दो पहाडियों के मध्य कला का अद्भुत नमूना है | वज्र मठ मंदिर भी उच्च कला कोटि का जैन मंदिर है | नगर के भीतर बहार अनेक पूरा अवशेष बिखरे पड़े है | किवदंती है कि राजा श्रीपाल का कुष्ठ रोग यहाँ के मानसरोवर तालाब से दूर हुआ था | कुछ विद्वानों के अनुसार यह क्षेत्र भगवान् शीतलनाथ कि तपोभूमि है | भगवान् पार्श्वनाथ कि ४ फुट ९ इंच की प्रतिमा है | लगभग ५० वर्ष पूर्व किन्ही अज्ञात कारणों से प्रतिमा से पसीना निकला

Nearest Tirth & Visit Place :

Vidisha (Udaygiri's Caves) -37km
Bhopal -93km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

विदिशा (उदय गिरी की गुफाये ) - ३७कि मी
भोपाल  -९३कि मी  

 

Nearest Main City:

Vidisha-37 km

Sagar - 80km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

विदिशा - ३७कि मी
सागर -८०कि मी























































SHREE JAMNER JI, MADHYA PRADESH
 श्री जामनेर  जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri 1008 Dig. Jain Atishay Kshetra Sarvjanik Nyas ,Jamner
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री १००८ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र सार्वजनिक न्यास ,जामनेर
Tirthkshetra's Address:
Shri 1008 Dig. Jain Atishay Kshetra Sarvjanik Nyas ,Jamner
Village-Jamner Tehsil-Shujalpur District-Shajapur (Madhya Pradesh)Pin code-465335
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री १००८ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र सार्वजनिक न्यास ,जामनेर  
ग्राम - जामनेर , तहसील - शुजालपुर मंडी जिला - शाजापुर  (मध्य  प्रदेश )पिन  कोड -   ४६५३३५ 
Telephone No.
07360-254663
फ़ोन नंबर :
०७३६० -२५४६६३
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 09
Hall :02(Capacity-50) Guest House: 00
Total Capacity: 55 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : Yes (Govt.)  LIbrary: No

School : Yes(Govt.)

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०० 
कमरा (अलग स्नानघर): ०९
हॉल : ०२   (यात्री क्षमता-५० )
अतिथि गृह : ०० 
कुल यात्री क्षमता : ५५ भोजनालय :है 
औषधालय: है  शासकीय  पुस्तकालय : नहीं है 
विद्यालय :है  शासकीय  एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Shujalpur-09km , Kaalapipal - 09km
Bus stand –AAshta ,Shujalpur , Kaalapipal
Easiest Way: By Bus,Jeet ,Taxi from Shujalpur ,Kaalapipal
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : शुजालपुर -०९कि मी , कालापीपल - ०९कि मी
बस स्टैंड :   आष्टा  ,शुजालपुर  , कालापीपल  से 
पहुचने का सरलतम मार्ग : सडक मार्ग - बस जीप टेक्सी द्वारा शुजालपुर मंडी एवं कालापीपल 
Managing Committee :

Trust- Shri 1008 Dig. Jain Atishay Kshetra Sarvjanik Nyas ,Jamner
President- Shri Nemi chand Jain ,Shujalpur (09425083897)
Minister- Shri Hemraj Jain,Bhopal(09425301047)
Manager- Shri Hukumchand Jain(07360-254701)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट :श्री १००८ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र सार्वजनिक न्यास ,जामनेर  
अध्यक्ष:  श्री नेमीचंद जैन  ,शुजालपुर  (०९४२५०८३८९७ ) 
मंत्री :   श्री हेमराज  जैन ,भोपाल (०९४२५३०१०४७ ) 
प्रबन्धक :
श्री हुकुम चंद  जैन (०७३६० -२५४७०१ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 01
Hill in tirth kshetra   : No
An ancient Adinath temple is located in village Jamner, which is called Adinath Digambar Jain Mandir, There is a halo (prabhamandal) behind the head of the Tirthankara, kuntalit kesha on the head and long karnachapa. Hair is spread on the shoulders. There is a shrivatsa mark on the chest. On both the flanks chanwardharis, decorated with traditional ornaments are standing. One of their hands holds a chanwar while the other hand is on the thigh. Chronologically, the temple belongs to Paramara period. A number of Jain idols are installed in the temple. These include Parshwnath, Suparshwanath, Mahaveer, Neminath, Kuber etc. Various images from here have been sent to Jaisinghpura Jain Museum, Ujjain. Of these, images of Chanwadharini, Prabhamandal, Chhatra, Larchha etc are especially remarkable. From the images collected in the Jain temple, Jamner, it appears that Jamner was a centre of Jainism during Paramara period.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१ 
क्षेत्र पर पहाड़ :  नहीं है 
ऐतिहासिकता : यह क्षेत्र पवन मंदिर जामनेर के नाम से प्रसिद्ध है | भगवान् आदिनाथ की अतिशय युक्त प्रतिमा है | पिछले २५ वर्षो से हर साल गुडी पडवा को वार्षिक मेला भरता है | कई विकास योजनाये प्रगति पर है |मंदिर मे २९ प्रतिमाये है जिनमे पार्श्वनाथ , सुपार्श्वनाथ , नेमिनाथ ,महावीर स्वामी की प्रतिमाये भी शामिल है |

Nearest Tirth & Visit Place :

Makshi ji-90km

Chankhedi - 200km

Pushpgiri - 100km

Gommat giri -175km

Samasgarh - 70km

Bhojpur-110km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

मक्सी   जी -९० कि  मी  
चाँदखेडी    - २०० कि मी  

पुष्प गिरी   - १०० कि मी  

गोमट गिरी  -१७५ कि मी  

समसगढ़ - ७० कि मी   

भोजपुर -११० कि मी   

Nearest Main City:

Shujalpur -90km ,Bhopal-85km ,Indore-175km ,Ujjain-110km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

शुजालपुर  -९० कि मी  ,भोपाल -८५ कि मी  ,इंदौर -१७५ कि मी  ,उज्जैन -११० कि मी  













































SHREE JAYSINGHPURA-UJJAIN  JI, MADHYA PRADESH
 श्री जयसिंहपुरा उज्जैन    जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri 1008 Neminath Dig. Jain Atishay Kshetra And Punya Bhumi Jaysinghpura
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री १००८ नेमिनाथ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र एवं पुण्य भूमि जयसिंह पुरा
Tirthkshetra's Address:
Shri 1008 Neminath Dig. Jain Atishay Kshetra And Punya Bhumi Jaysinghpura
Jaisingh pura Ujjain (Madhya Pradesh)Pin code-456001
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री १००८ नेमिनाथ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र एवं पुण्य भूमि जयसिंह पुरा
जयसिंहपुरा उज्जैन (मध्य  प्रदेश )पिन  कोड - ४५६००१ 
Telephone No.
0734-2554797
फ़ोन नंबर :
०७३४ -२५५४७९७
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 07
Hall :01(Capacity-100) Guest House: 00
Total Capacity:125 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : No  LIbrary: No

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०० 
कमरा (अलग स्नानघर): ०७
हॉल : ०१   (यात्री क्षमता-१०० )
अतिथि गृह : ०० 
कुल यात्री क्षमता : १२५ भोजनालय :है 
औषधालय: नहीं है  पुस्तकालय : नहीं है 
विद्यालय :नहीं है  एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Ujjain-03km
Bus stand –Ujjain-03km
Easiest Way: By Bus or Train.
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : उज्जैन -०३ कि.मी.
बस स्टैंड :   उज्जैन -०३ कि.मी.
पहुचने का सरलतम मार्ग : सडक , रेल मार्ग
Managing Committee :

Trust- Shri Dig. Jain Mandir Trust , Namakmandi ,Ujjain
President- Shri Prakashchand Kashlivaal (09425092967)
Minister- Shri Anil Gangwaal(09425092967)
Manager-

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री  दिग .  जैन  मंदिर  ट्रस्ट  , नमक मंडी  ,उज्जैन   
अध्यक्ष:  श्री  प्रकाशचंद  कासलीवाल  (०९४२५०९२९६७ ) 
मंत्री :   श्री  अनिल  गंगवाल (०९४२५०९२९६७ ) 
प्रबन्धक :

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 01
Hill in tirth kshetra   : No
This area is currently in Ujjain city.Its ancient name is Avantika Puri.During Jain regime had its name Ujjain.It is believed by shwetamber that here mahaveer swami at was prefix by the rudra.Muni Abhay Ghosh has finally got salvation from here. so it is a Siddha Kshetra. The famine is known that the future event Bdrabahu drove his huge association with South India.8 large and 10 small Jain temples in Ujjain.Mahakala, Ganesh Temple, Shipra River, Jantar Mantar is also worth visiting Place in ujjain.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१ 
क्षेत्र पर पहाड़ :  नहीं है 
ऐतिहासिकता : यह क्षेत्र वर्तमान मे उज्जैन नगर सीमा में ही है | इसका प्राचीन नाम अवंतिका पुरी है | जैन शासन के दौरान इसका नाम उज्जैन पड़ गया | श्वेताम्बर मान्यता के अनुसार यहाँ रूद्र ने महावीर स्वामी पर उपसर्ग किया था | मुनि अभय घोष ने यहाँ से निर्वाण प्राप्त किया था इसलिए ये निर्वाण क्षेत्र भी है | यही पर दुर्भिक्ष की भावी घटना ज्ञात होने पर भद्रबाहु अपने विशाल संघ के साथ दक्षिण भारत चले गए थे | 
उनके  साथ चन्द्र गुप्त मौर्य भी मुनि दीक्षा लेकर चले गए थे |   उज्जैन में ८ बड़े भव्य जिनालय एवं १० छोटे मंदिर भी है | महाकाल , गणेश मंदिर , शिप्रा  नदी ,जंतर मंतर  भी दर्शनीय है | हिन्दू लोगो का यहाँ बहुत बड़ा धार्मिक क्षेत्र है |

Nearest Tirth & Visit Place :

Makshi ji-36 km

Mahaveer Tapobhumi - 05km

Pushpgiri - 80km

Gommat giri -60km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

मक्सी   जी - ३६  कि  मी  
महावीर तपोभूमि -०५ कि मी 

पुष्प गिरी   - ८० कि मी  

गोमट गिरी  -६०  कि मी  

Nearest Main City:

Indore -60km ,

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

इंदौर -६० कि मी  




















































SHREE KAITHULI  JI, MADHYA PRADESH
 श्री कैथूली   जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri 1008 Parshvanath Dig. Jain Atishay Kshetra,Kaithuli
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री १००८ पार्श्वनाथ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र ,कैथूली
Tirthkshetra's Address:
Shri 1008 Parshvanath Dig. Jain Atishay Kshetra,Kaithuli
Village-Kaithuli,Tehsil-Bhanpura,District-Mandsor (Madhya Pradesh)Pin code-458775
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री १००८ पार्श्वनाथ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र ,कैथूली
ग्राम -कैथूली ,तहसील -भानपुरा ,जिला -मंदसोर (मध्य प्रदेश )पिन कोड -४५८७७५
Telephone No.
07459-221658,09214728901
फ़ोन नंबर :
०७४५९ -२२१६५८ ,०९२१४७२८९०१
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 13
Hall :01(Capacity-50) Guest House: 00
Total Capacity:150 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : No  LIbrary: No

School : No

STD PCO : No
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०० 
कमरा (अलग स्नानघर): १३ 
हॉल : ०१   (यात्री क्षमता-५० )
अतिथि गृह : ०० 
कुल यात्री क्षमता : १५० भोजनालय :है 
औषधालय: नहीं है  पुस्तकालय : नहीं है 
विद्यालय :नहीं है  एसटीडी पीसीओ : नहीं है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Ramganj Mandi -16km
Bus stand –Ramganj Mandi-16km.
Easiest Way: By Bus from Ramganj Mandi or Raod way-Mandsor- Garoth-105km ,
Bhanpura -25km
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : रामगंज मंडी- १६कि मी 
बस स्टैंड :   रामगंज मंडी- १६कि मी 
पहुचने का सरलतम मार्ग : रामगंज मंडी से या सड़क मार्ग -मंदसोर - गरोठ -१०५ कि मी. भानपुरा -२५कि मी 
Managing Committee :

Trust- Shri Parshvanath Dig. Jain Atishay Kshetra Trust,Kaithuli
President- Shri Trilok Chandra Jain (09414193194,07459-222195,220475)
Minister- Shri Rajendra Kumar Jain(09460812202)
Manager- Shri Vimalchand Jain (09214165921)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री पार्श्वनाथ दिग . जैन अतिशय क्षेत्र ट्रस्ट ,कैथूली   
अध्यक्ष:  श्री  त्रिलोक  चन्द्र  जैन  (०९४१४१९३१९४ ,०७४५९ -२२२१९५  ,२२०४७५ ) 
मंत्री :   श्री  राजेंद्र  कुमार  जैन (०९४६०८१२२०२ ) 
प्रबन्धक :
 श्री  विमलचंद  जैन  (०९२१४१६५९२१ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 01
Hill in tirth kshetra   : No
Madhya Pradesh, Rajasthan border and the foothills of the Aravalli mountain range at the Temple is 1100 years old.Cturthkal Chaubisi and charm of the miraculous Idol. 1 tunnel whose destination is unknown.Here Main Idol is Lord Parshvanath. According to ancient inscriptions of the ancient statue here must be Lord Chandraprbhu.May be The wealth of ancient statues found in a basement.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१ 
क्षेत्र पर पहाड़ :  नहीं है 
ऐतिहासिकता : मध्य प्रदेश ,राजस्थान सीमा एवं अरावली पर्वत श्रंखला की तलहटी पर स्थित यह स्थल ११०० वर्ष प्राचीन है |  चतुर्थ काल की चौबीसी एवं मनोहारी चमत्कारी प्रतिमा है |
जिनालय के गर्भगृह में वेदियाँ है | १ सुरंग है जिसका गंतव्य अज्ञात है |गर्भ गृह में १ प्राचीन शिलालेख होने से एहतिहासिक संकेत उभरे है | प्राचीन शिलालेख के अनुसार यहाँ भगवान् चंद्रप्रभु की प्राचीन प्रतिमा होनी चहिये |संभव है कि किसी तलघर में प्राचीन मूर्तियों का खजाना मिले |पार्श्वनाथ भगवान् कि मुलनायक प्रतिमा यहाँ विराजमान है|४० जिन बिम्ब भी यहाँ विराजमान है |

Nearest Tirth & Visit Place :

Chandkhedi -90 km

Jhalrapatan - 50km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

चाँद खेडी -९०कि मी
झालरापाटन - ५०कि मी

Nearest Main City:

Ramganj Mandi - 16km

Bhanpura-25km

Mandsor

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

रामगंज मंडी - १६कि मी

भानपुरा -२५कि मी

मंदसोर




















































SHREE KHAJURAHO  JI, MADHYA PRADESH
 श्री खजुराहो    जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Dig. Jain Atishay Kshetra,Khajuraho
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र ,खजुराहो
Tirthkshetra's Address:
Shri Dig. Jain Atishay Kshetra,Khajuraho
Post-Khajuraho,Tehsil-Rajnagar,District- Chatarpur (Madhya Pradesh)Pin code-471606
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र ,खजुराहो
पोस्ट -खजुराहो ,तहसील -राजनगर ,जिला - छतरपुर (मध्य प्रदेश )पिन  कोड -४७१६०६ 
Telephone No.
07686-274148,09993252448,09301482432,272252
फ़ोन नंबर :
०७६८६ -२७४१४८ ,०९९९३२५२४४८ ,०९३०१४८२४३२ ,२७२२५२
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):27 Room(Seprate Bathroom): 18
Hall :05(Capacity-150) Guest House: 00
Total Capacity:450 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : No  LIbrary: Yes

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): २७
कमरा (अलग स्नानघर): १८
हॉल : ०५ (यात्री क्षमता-१५० )
अतिथि गृह : ०० 
कुल यात्री क्षमता : ४५०      भोजनालय :है 
औषधालय: नहीं है  पुस्तकालय : है 
विद्यालय :नहीं है  एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Mahoba-60km , Satna-110 ,Jhansi-175km
Bus stand –Khajuraho
Easiest Way: By bus from Mahoba,Jhansi,Sagar,Satna,Panna.
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन :महोबा -६०कि मी , सतना -११०कि मी ,झाँसी -१७५कि मी
बस स्टैंड :   खजुराहो
पहुचने का सरलतम मार्ग : झाँसी ,सागर ,पन्ना ,सतना ,छतरपुर महोबा से बस द्वारा
Managing Committee :

Trust- Shri Digamber Jain Atishay Kshetra Management Committee, Khajuraho
President- Shri Shikhar Chandra Jain (07682-241011-12,094249-22444)
Minister- Shri Vinod Kumar Jain(07686-272386,274185,09425342180)
Manager- Shri Rishabh Kumar Jain (07686-274148,09425879049)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र प्रबंध कमेटी , खजुराहो
अध्यक्ष:  श्री शिखर  चन्द्र जैन (०७६८२ -२४१०११ -१२ ,०९४२४९ -२२४४४ )
मंत्री :   श्री विनोद कुमार जैन (०७६८६ -२७२३८६ ,२७४१८५ ,०९४२५३४२१८० )
प्रबन्धक :
 श्री ऋषभ कुमार जैन (०७६८६ -२७४१४८ ,०९४२५८७९०४९ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 22 Temple And 34 Vedi.
Hill in tirth kshetra   : No
Khajuraho has been recognized by UNESCO as a place of world heritage on account of its magnificent temples. No doubt Khajuraho is one of the most prominent international tourist centers of India. It was widely known as the religious capital of mighty Chandellas in the medieval period (9th to 13th Century AD). The temples of Khajuraho are generally divided into three groups: Western, Eastern and Northern. The Eastern group mainly consisting of Jain temples. There are 34 (Thirty Four) Jain Temples in total. But from architectural point of view the Parsvanath, the Adinath and the Shantinath temples are relatively more important and noteworthy. These temples are unique examples of religious harmony and spirit of accommodation. Atishay (Miracle), The Shantinath Temple is famous for its 14 feet high standing idol, the 16th jain tirthankar. According to an inscription on it, it is installed in Vikrama-Samvat 1085 (1028 AD). This idol is full of miracle. About 400 years ago, while invaders (idol breakers) came here and applied hammer to the little finger to break the idol, flow of milk started from it and at the same time dense flock of honey bees attached on invaders and pushed them to run away. Desires of devotees are fulfilled here after prayer and worship full of faith. Shri 1008 Lord Shantinath temple is the main temple with 4 ft. high colossus in the standing posture, the highest idol of all idols (deity images) of Khajuraho. This temple contains a large number of remarkably gracious images of Tirthankaras (e.g. Lord Rishabh Dev, Parshwanath, ChandraPrabhu) along with the rarely majestic Sculpture of the parents of Tirthankar. Almost all the Tirthankar images are adorned by 'Asta-Pratiharyas' (eight miracles) such as Indras with flying whisks, three umbrellas, Hallow (Prabha-mandal), throne (Simhasan), etc. This temple also contains a picture-gallery, which exhibits photos of prominent Jain monuments of India as a whole, in a chronological manner. 

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या :२२ मंदिर और ३४ वेदिया
क्षेत्र पर पहाड़ :  नहीं है 
ऐतिहासिकता : खजुराहो विश्व प्रसिद्ध पर्यटन क्षेत्र है । यहाँ अनेक जैन मंदिर व् हिन्दू मंदिर है ।१००० वर्ष प्राचीन चंदेल कालीन मंदिरों कि शिल्पकला व् वास्तु कला उत्कृष्ट है ।इन्हें पश्चिमी ,पूर्वी उप समूहों में बाटा गया है। पश्चिमी समूह में चोसठ योगिनी ,महादेव मंदिर प्रमुख है ।और पूर्वी समूह को जैन मंदिर समूह कहते है । दक्षिण समूह दूल्हा देव व् चतुर्भुज मंदिर है ।यहाँ आदिनाथ ,पार्श्वनाथ ,शांतिनाथ मंदिर प्रमुख है ।यहाँ जैन संग्रहालय में भी मुर्तिया है

Nearest Tirth & Visit Place :

DronGiri-100km,Nainagiri-165km,Kundalpur-180km,AAharji-125km,Paporaji-150km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

द्रोणगिरी   -१००कि मी ,नैनागिरी -१६५कि मी ,कुण्डलपुर -१८०कि मी ,आहार जी -१२५कि मी ,पपोरा जी -१५०कि मी 

Nearest Main City:

Chatarpur-46km ,Panna-46km,Harpalpur-100km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

छतरपुर -४६कि मी  ,पन्ना -४६कि मी ,हरपालपुर -१००कि मी



















































SHREE KHANDARGIRI  JI, MADHYA PRADESH
 श्री खंदारगिरी  जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra Khandargiri.
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र , खंदार गिरी
Tirthkshetra's Address:
Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra Khandargiri.
Post-Khandargiri,Tehsil-Chanderi,District- Guna (Madhya Pradesh)Pin code-473446
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र ,खजुराहो
पोस्ट -खंदार गिरी,तहसील - चंदेरी ,जिला - गुना (मध्य प्रदेश )पिन  कोड -४७३४४६
Telephone No.
07547-243357(Office)243118(Dhramshala)
फ़ोन नंबर :
०७५४७ -२४३३५७ (कार्यालय )२४३११८ (धर्मशाला)
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):05 Room(Seprate Bathroom): 19
Hall :02(Capacity-350) Guest House: 04
Total Capacity:1000 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : Yes  LIbrary: Yes

School : Yes

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०५
कमरा (अलग स्नानघर): १९
हॉल : ०२ (यात्री क्षमता-३५०  )
अतिथि गृह : ०४
कुल यात्री क्षमता : १०००  भोजनालय :है 
औषधालय: है  पुस्तकालय : है 
विद्यालय :है  एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Lalitpur-36km ,Mungawali-38km
Bus stand –Chanderi -01km
Easiest Way: Busses are available from Lalitpur ,Mungawali ,Chanderi,Ashok Nagar,Guna
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : ललितपुर -३६ कि मी  ,मुंगावली -३८ कि मी  
बस स्टैंड :   चंदेरी  -०१ कि मी  
पहुचने का सरलतम मार्ग : ललितपुर ,मुंगावली ,चंदेरी ,गुना अशोक नगर से बस सेवा उपलब्ध 
Managing Committee :

Trust- Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra Choubeesee Bada Mandir Trust 
President- Shri Padamsingh
Minister- Shri Nirmal Jain(07547-253265)
Manager- Shri Mahaveer Choudhry Jain (07547-253297,09425381257)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री  दिगम्बर  जैन  अतिशय  क्षेत्र  चौबीसी  बड़ा  मंदिर  ट्रस्ट  
अध्यक्ष:  श्री पदमसिंह  
मंत्री :   श्री  निर्मल  जैन (०७५४७ -२५३२६५ ) 
प्रबन्धक :
 श्री  महावीर  चौधरी  जैन  (०७५४७ -२५३२९७ ,०९४२५३८१२५७ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 04 Temple ,06-Caves
Hill in tirth kshetra   : Yes (115 Stairs)
Khandargiri is at a distance of one km from historic city Chanderi of Dist. Guna situated in hilly area. Here are six caves in hills with so many idols of Teerthankars, so beautiful, a unique example of sculpture art. In Cave No. 2 a high standing colossus of Lord Adinath is very attractive and miraculous. These idols are carved by cutting rocks of hills, completed during 13th to 16th century. These hills are a part of the Vindhyachal Mountain range.  In the Cave No. 2, a 38 feet high colossus in standing posture is very attractive & pleasing to eyes,full of art.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०४ मंदिर ०६ गुफाये 
क्षेत्र पर पहाड़ :   है (११५ सीडिया )
ऐतिहासिकता : खंदारगिरी पर्वत माला तीर्थंकर देवों का अतिशय क्षेत्र है ,यहाँ प्रत्येक चतुर्दशी और अष्टमी को भगवान् आदिनाथ की ३८ फीट ऊँची प्रतिमा पर अलोकिक रूप से केसर की वर्षा होती है | पहाड़ी की गुफाओं में पत्थर काटकर मुर्तिया बनायीं गयी है जो पुरातत्व व् कला दोनों ही द्र्ष्टियो से महत्व रखती है | ये मुर्तिया १३वि से १७ वि शताब्दी के मध्य मई निर्मित है |

Nearest Tirth & Visit Place :

Thubon ji-22km

Seron ji-27 km

Budi Chanderi -20km

Devgarh - 62km

Golkot-70km

Khaniyadhana - 60km

Pachrai - 75 km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

थूबोन  जी -२२ कि मी  

सेरोन जी -२७ कि मी    

बूढ़ी चंदेरी  -२०कि मी  

देवगढ  - ६२कि मी  

गोला कोट -७०कि मी  

खानियाधाना - ६० कि मी  

पचराई - ७५ कि मी  

Nearest Main City:

Chanderi-01 km ,Lalitpur -36km,Mungawali -38km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

चंदेरी -०१कि मी   ,ललितपुर  -३६कि मी ,मुंगावली  -३८ कि मी 



















































SHREE KHANIYADHANA JI, MADHYA PRADESH
 श्री खनियाँधाना  जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Nandishvar Digamber Jain Mandir,Chetan Bhag,Khaniyadhana
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री नन्दीश्वर दिगम्बर जैन मंदिर ,चेतन बाग़,खनियाँधाना
Tirthkshetra's Address:
Shri Digamber Jain Atishaya Kshetra Khandargiri.
Tehsil-Khaniyadhana ,District- Shivpuri (Madhya Pradesh)Pin code-  473990
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री नन्दीश्वर दिगम्बर जैन मंदिर ,चेतन बाग़,खनियाँधाना
तहसील - खनियाँधाना ,जिला - शिवपुरी   (मध्य प्रदेश )पिन  कोड - ४७३९९० 
Telephone No.
07487-235474,235450,09926265955
फ़ोन नंबर :
०७४८७ -२३५४७४ ,२३५४५० ,०९९२६२६५९५५
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):08 Room(Seprate Bathroom): 20
Hall :02(Capacity-50+40) Guest House: 00
Total Capacity:200 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : Yes  LIbrary: Yes

School : Yes(Higher Secondy)

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०८
कमरा (अलग स्नानघर): २०
हॉल : ०२ (यात्री क्षमता- ५०+४०  )
अतिथि गृह : ००
कुल यात्री क्षमता : २०० भोजनालय :है 
औषधालय: है  पुस्तकालय : है 
विद्यालय :है एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : Basai - 40km(Between Jhansi - Lalitpur)
Bus stand –Khaniyadhana -01 km
Easiest Way: Busses are available from Gwalior,Jhansi,Lalitpur,Guna
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : बसई - ४० कि मी ( झाँसी  - ललितपुर के मध्य ) 
बस स्टैंड :   खनियाँधाना - ०१ कि मी
पहुचने का सरलतम मार्ग : ललितपुर , झाँसी ग्वालियर गुना  से बस सेवा उपलब्ध 
Managing Committee :

Trust- Shri Neminath Digamber Jain Naya Mandir Trust,Khaniyadhana 
President- Shri Nathuram Jain (07497-235825)
Minister- Shri Sunil Jain 'Saral'(07497-235419 , 09977644295)
Manager- Shri Tarachand Jain (07497-235670,099926784422)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री  नेमिनाथ  दिगम्बर  जैन  नया  मंदिर  ट्रस्ट ,खनियाँधाना 
अध्यक्ष:  श्री नाथूराम  जैन  (०७४९७ -२३५८२५ ) 
मंत्री :    श्री  सुनील  जैन  'सरल '(०७४९७ -२३५४१९  , ०९९७७६४४२९५ ) 
प्रबन्धक :
  श्री  ताराचंद  जैन  (०७४९७ -२३५६७० ,०९९९२६७८४४२२ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 04 Temple ,06-Caves
Hill in tirth kshetra   : Yes (115 Stairs)
Two Ancient Jain Temple in Khaniyadhana.It was an independent state.At that time the Maharaja of Gwalior was not given approval to run the gajrath.Then the king of Khaniyadhana was allowed to run the Gajrth. 3 Gajrth had gone together.The Nandishvar Deep temple was built on this spot.Creating a very beautiful "Nandishvar deep Temple And Panchmeru Temple" Here.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०४ मंदिर ०६ गुफाये 
क्षेत्र पर पहाड़ :   है (११५ सीडिया )
ऐतिहासिकता : खनियाँधाना में २ प्राचीन  भव्य जैन मंदिर है। यह एक स्वतंत्र  रियासत थी  |उस समय में ग्वालियर के महाराजा ने गजरथ चलाने की स्वीकृति नहीं दी जाती थी |तब यहाँ के महाराजा ने गजरथ चलाने की अनुमति दी थी ।३ गजरथ एकसाथ चले थे |इसी स्थान पर नन्दीश्वर जिन मंदिर का निर्माण किया गया |  नन्दीश्वरद्वीप   मंदिर और पंचमेरू मंदिर की रचना अति सुन्दर है | इसमें पंचमेरू के साथ गज दन्त  जिनालयो की भी रचना की गयी है | श्री नदीश्वर विद्यालय भी संचालित है एवं इसी नाम से आवास भी है |

Nearest Tirth & Visit Place :

Thubon ji-75km

Pawa ji -70 km

Chanderi-Choubisi -50km

Sonagiri - 115km

Golakot-08km

Pachrai - 20 km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

थूबोन  जी - ७५कि मी  

पवा जी  -७०  कि मी  

चंदेरी -चौबीसी  -५०कि मी  

सोना गिरी  - ११५कि मी  

गोलाकोट -०८कि मी  

पचराई - २०  किमी  

Nearest Main City:

Khaniyadhana-01 km ,Shivpuri - 115km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

खनियाँधाना - ०१ कि मी ,  शिवपुरी  - ११५कि मी  



















































SHREE KUNDALGIRI (KONI JI) JI, MADHYA PRADESH
 श्री कुंडलगिरी  (कोनी जी ) जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Digambar Jain Atishaya Kshetra Kundalgiri (Koniji)
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र कुंडल गिरी (कोनीजी)
Tirthkshetra's Address:
Shri Digambar Jain Atishaya Kshetra Kundalgiri (Koniji)
Village-Koni,Post-Patan ,District- Jabalpur (Madhya Pradesh)Pin code-  483113
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र कुंडल गिरी (कोनीजी)
ग्राम -कोनी,पोस्ट -पाटन ,जिला - जबलपुर  (मध्य प्रदेश )पिन  कोड - ४८३११३
Telephone No.
07621-205895,220488,220588,220335,220535
फ़ोन नंबर :
०७६२१ -२०५८९५ ,२२०४८८ ,२२०५८८ ,२२०३३५ ,२२०५३५
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):00 Room(Seprate Bathroom): 30
Hall :06(Capacity-200) Guest House: 00
Total Capacity:400 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : No  LIbrary: Yes,3000 Books

School : Yes(Govt.)

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ००
कमरा (अलग स्नानघर): ३०
हॉल : ०६ (यात्री क्षमता- २०० )
अतिथि गृह : ००
कुल यात्री क्षमता : ४०० भोजनालय :है 
औषधालय: नहीं है पुस्तकालय : है , ३००० किताबे
विद्यालय :है (शासकीय ) एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station : After reaching to Jabalpur or Damoh Railway Station one gets buses & taxis for Koniji Kshetra. 
Bus stand –Paatan-6.5km
Easiest Way: Buses & Taxis are available from Jabalpur, Damoh & Patan to Kshetra.
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : बसई - जबलपुर - ४.५ कि.मी  
बस स्टैंड :   पाटन-६.५ कि मी 
पहुचने का सरलतम मार्ग : बसे व् टेक्सी जबलपुर , पाटन , दमोह से उपलब्ध 
Managing Committee :

Trust- Shri Digambar Jain Atishaya Kshetra Kundalgiri (Koniji) 
President- Shri Rajendra Kumar Jain (0761-2442917)
Minister- Shri Vimal Kumar 'Naayak''(07621-220536)
Manager- Shri Abhinandan Jain ,Paatan(07621-220488 ,Mob-09425863244)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र  ट्रस्ट ,कुंडल गिरी (कोनीजी)
अध्यक्ष:  श्री  राजेंद्र   कुमार  जैन  (०७६१ -२४४२९१७ ) 
मंत्री :     श्री  विमल  कुमार  'नायक ''(०७६२१ -२२०५३६ ) 
प्रबन्धक :
  श्री  अभिनन्दन  जैन  ,पाटन (०७६२१ -२२०४८८  ,मोब -०९४२५८६३२४४ )

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 10
Hill in tirth kshetra   : No
Shri Kundalgiri (Koniji) Atishaya Kshetra is situated near Hiran River in the valleys of Bhander-Kemor mountain range, the Vindhyachal mountain range in Jabalpur District of M.P. This Kshetra is about 1000 years ancient and is present in midst of natural surroundings. The effect of Kalchuri Periodic Art of 10th-11th century is clearly visible in the art of temple and the idols present here. The temples of this Kshetra have restored the historicity & art in its usual form and they deliver the message of self-development to all living beings.  The carvings of ‘Nandishwar Dveep’ & ‘Sahastrakoot Chaityalaya’ are quite artistic and miraculous. According to Pandit Balbhadra Jain it is because of their artistic style they have become unique. No other Jinalaya is made in this artistic style at any other place. It was few years ago only that Gods of heaven used to come at this Kshetra on ‘Ashtanhika Festival’ and use to offer their prayers on this occasion. The shower of saffron also occurs here on this occasion and the whole environment get filled with fragrance of saffron. The 7th temple of this Kshetra in which Sahastrakoot Jinalaya exists, is famous as Sanctum Temple (Garbha Mandir). Even after the presence of 2 ventilators & 2 gates in this temple one feels cool in summers & warm in winters. 

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : १०
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता : यहाँ कुल१० मंदिर है जिनका जीर्णोधार किया गया है | गर्भ मंदिर अतिशय संपन्न है |इस मंदिर में सहस्त्र कूट चैत्यालय है | नन्दीश्वर जिनालय भी है |आचर्य श्री विद्यासागर जी ने सन १९८१ व् १९८२  में २-२ माह का शीत योग किया था |
१९८२ में आचर्य श्री के सानिध्य में मध्य प्रदेश में प्रतम त्रिमूर्ति जिनालय का निर्माण हुआ एवं भगवान् आदिनाथ ,भरत ,बाहुबली कि प्रतिमा कि प्राण प्रतिष्ठा हुई | १९८९ में भी संघ ने ३३ दिन का ग्रीष्म कालीन वाचना करी | यह क्षेत्र विन्द्याचल पर्वतमाला के कीमोर भांडेर  पहाडियों कि तलहटी एवं हिरन सरिता के तट पर स्थित है |

Nearest Tirth & Visit Place :

Panagar ji-56km

Kundalpur-110 km

Pisanhaari Madiya Ji -40km

Bohiri Band- 67km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

पनागर  जी -५६कि मी   कुण्डलपुर -११०  कि मी   पिसनहारी  माडिया  जी  -४०कि मी   बोहिरी  बंद - ६७कि मी  

Nearest Main City:

Jabalpur 36 km , Damoh 70 km , Katangi 28 km , Shahpura Bhitoni 26 km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

जबलपुर ३६ कि मी ,दमोह ७० कि मी ,कटंगी २८ कि मी ,  शाहपुरा भिटोनी २६ कि मी  



















































SHREE LAKHNADAUN JI, MADHYA PRADESH
 श्री लखनादौन  जी , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Digambar Jain Atishay Kshetra Lakhnadaun
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र लखनादौन
Tirthkshetra's Address:
Shri Digambar Jain Atishay Kshetra Lakhnadaun
Village/Tehsil-Lakhnadaun ,District-Seonii (Madhya Pradesh)Pin code-480886
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र लखनादौन
ग्राम /तहसील -लखनादौन ,जिला -सिहोनी (मध्य प्रदेश )पिन कोड -४८०८८६
Telephone No.
07690-240851 mob-09229681851
फ़ोन नंबर :
०७६९० -२४०८५१ मोब.-०९२२९६८१८५१
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):03 Room(Seprate Bathroom): 20
Hall :03(Capacity-150) Guest House: 05
Total Capacity:500 Canteen/Restaurant : Yes
Dispensary : Yes  LIbrary: Yes

School : Yes(Dig Jain syadvaad Gurukul)

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०३  
कमरा (अलग स्नानघर): २० 
हॉल : ०३ (यात्री क्षमता- १५० )
अतिथि गृह : ०५
कुल यात्री क्षमता : ५०० भोजनालय :है 
औषधालय: है पुस्तकालय : है 

विद्यालय :है ( दिग. जैन स्यादवाद गुरुकुल  )

ये सभी क्षेत्र से २०० मीटर की दुरी पर है 

एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station :Jabalpur-85km, Dhanjour-40km
Bus stand –Lakhnadaun
Easiest Way: Jabalpur-Nagpur Marg No.7 And Narsinghpur -Nagpur Marg no.26
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : जबलपुर -८५कि मी , धन्जौर -४०कि मी  
बस स्टैंड : लखनादौन   
पहुचने का सरलतम मार्ग : जबलपुर -नागपुर  मार्ग  नंबर ७  और  नरसिंहपुर  -नागपुर  मार्ग  नंबर २६ के संगम पर स्थित है  
Managing Committee :

Trust- Ahinsa Prachar And Shikshan Samiti ,Sharamnpur,Lakhnadaun
President- Shri Sanjay Kumar Jain (07690-240198,Mob:09425148167)
Minister- Shri Vikas Kumar Jain(076690-240182 ,Mob: 09229567358)
Manager- Shri Ashok Kumar Jain(07690-240182 )

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : अहिंसा  प्रचार  एवं  शिक्षण  समिति  ,श्रमणपुर .लखनादौन  
अध्यक्ष:  श्री   संजय  कुमार  जैन  (०७६९० -२४०१९८ ,मोब. :०९४२५१४८१६७ ) 
मंत्री :     श्री  विकास  कुमार  जैन (०७६६९० -२४०१८२  ,मोब. : ०९२२९५६७३५८ ) 
प्रबन्धक :
श्री  अशोक  कुमार  जैन (०७६९० -२४०१८२ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 06
Hill in tirth kshetra   : No
Here Mulanayak Idol is Mahaveer Swami.It is 1st Idol made by Jarman Silver in india.IT is 5*3 Foot High. Bada Jain temple of Lord Adinath statue from geologyand also Navdevta Jin mandir.Lord Bahubali in parshvantah Temple.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०६
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता : यहाँ भगवान्  महावीर की  मूलनायक जर्मन  सिलवर से निर्मित भारत की पहली प्रतिमा है | ५*३ फुट ऊँची पद्मासन , अत्यंत भव्य व् अतिशय युक्त है | बड़े जैन मंदिर में भगवान् आदिनाथ की भूगर्भ से प्राप्त प्रतिमा है एवं नवदेवता जिन मंदिर भी है । मंदिर में अष्ट धातु से निर्मित २४ प्रतिमाये है. । पार्श्वनाथ जिनमन्दिर में बाहुबली स्वामी की प्रतिमा है
। मंदिर की प्रतिष्ठा परम पूज्य उपाध्याय श्री १०८ ज्ञानसागरजी के सानिध्य में १०-१६ अप्रैल २००६ के मध्य हुई थी | 

Nearest Tirth & Visit Place :

Madiya ji-75km

Seoni-60 km

Bhedaghat -90km

Mat Goghra - 10km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

माडिया  जी -७५कि मी  

सेओनी -६०कि मी  

भेड़ा घाट  -९०कि मी 

मठ घोघरा   - १०कि मी  

Nearest Main City:

Jabalpur 85 km 
Seoni 60 km 
Nagpur 192km 
Dhanjor-40km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

जबलपुर -८५कि मी ,

धन्जौर -४०कि मी  

सेओनी -६०कि मी  

नागपुर  १९२कि मी  



























































SHREE MAHAVEER TAPOBHUMI JI-UJJAIN , MADHYA PRADESH
 श्री महावीर तपोभूमि जी-उज्जैन    , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Mahaveer TapoBhumi ,Ujain
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री महावीर तपोभूमि जी-उज्जैन 
Tirthkshetra's Address:
Shri Mahaveer TapoBhumi ,Ujain
IndoreRoad ,Ujjain,District-Ujjain(Madhya Pradesh)Pin code-456001
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री महावीर तपोभूमि जी-उज्जैन 
इंदौर रोड , उज्जैन ,जिला -उज्जैन (मध्य प्रदेश )पिन  कोड -४५६००१ 
Telephone No.
0734-2508103
फ़ोन नंबर :
०७३४ -२५०८१०३
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):08 Room(Seprate Bathroom): 04
Hall :02(Capacity-50) Guest House: 00
Total Capacity:250 Canteen/Restaurant : Yes ,Paid
Dispensary : No  LIbrary: Yes

School : No

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०८
कमरा (अलग स्नानघर): ०४
हॉल : ०२ (यात्री क्षमता- ५० )
अतिथि गृह : ००
कुल यात्री क्षमता : २५० भोजनालय :है , सशुल्क   
औषधालय: नहीं है पुस्तकालय : है 

विद्यालय :नहीं है

एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station :Ujjain-08km
Bus stand –Ujjain-08km
Easiest Way: RaodWay-Indore-Ujjain Highway
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : उज्जैन -०८कि मी 
बस स्टैंड : उज्जैन -०८कि मी 
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग-उज्जैन -इंदौर हाईवे पर   
Managing Committee :

Trust- Shri Mahaveer Tapobhumi Parmarthik Trust Ujjain
President- Shri Ashok Jain (09425092268)
Minister- Shri Mahesh Jain09425992240)
Manager- Shri Sanat Kumar Jain(0734-2508103)

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री  महावीर  तपोभूमि  परमार्थिक ट्रस्ट  उज्जैन  
अध्यक्ष:  श्री  अशोक  जैन  (०९४२५०९२२६८ ) 
मंत्री :     श्री  महेश  जैन (०९४२५९९२२४० ) 
प्रबन्धक :
श्री  सनत  कुमार  जैन (०७३४ -२५०८१०३ ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 07And Chousbisi
Hill in tirth kshetra   : No
Ujjain is very Ancient City.It is palce of Lord Mahaveer Tapobhumi And Muni AbhayGhosh Nirvan Bhumi. It is mention in Uttar Puran And Dig. JainTith Granth.This Tirth is buildy by inspiration of Muni Shri 108 Pragya Sagar.It is build only in 7month. Here World biggest Crncinh of Lord Aadinath(7*7Foot)And World 1st Gem'sChoubisi ,KaalSarpYogNivaranShri Neminath -Parshvanath Temple and Mahaveer Garden Pilgrim's suit of thisTirth. .This Mahaveer Tapobhumi  tirth has already had the Pachkalayanak Pritistha of 21 feet long standing statue of Bhagwan Mahavir. In January 2007. Every Year on 26th January Mahamastka Abhishek of lord Mahavira was done. Here 21 JAN. to 29 JAN. in the presence of PARAMPUJYA MUNISHREE 108 PRAGYASAGAR JI MAHARAJ PANCH-KALYADAK MAHOTSAV OR VISHWA SHANTI MAHAYAGYA are organised .

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०७ एवं  चौबीसी  
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता : उज्जैन की एहतिहासिक प्रष्ठ भूमि अत्यंत प्राचीन एवं पौराणिक है | यह  भगवान् महावीर की तपो भूमि तो मुनि अभय घोष की निर्वाण भूमि है | यह उल्लेख उत्तर पुराण में व् दिग. जैन तीर्थ नामक ग्रन्थ में उपलब्ध है | इस  तीर्थ की प्रेरणा मुनि श्री १०८ प्रज्ञा सागर जी ने दी थी जो आचर्य  पुष्प दन्त सागर जी के शिष्य है | सात महीने के लघु अवधि में बनकर तैयार  हो गया| यहाँ विश्व के सबसे विशाल भगवान्  आदिनाथ के (७*७ )फूट के चरण चिन्ह है ,विश्व की प्रथम रत्नों की चौबीसी ,काल सर्प योग  निवारण  श्री नेमी नाथ - पार्श्वनाथ मंदिर , पाषाण युक्त श्री कलि कुंड पार्श्वनाथ यन्त्र एवं धर्मशाला , भोजन शाला ,आहार कक्ष , हरीतिमा से युक्त महावीर उद्यान इस तीर्थ की शोभा है | यहाँ महावीर स्वामी की २१ फूट लम्बी प्रतिमा है |  

Nearest Tirth & Visit Place :

Makshi ji-36 km
Banedia Ji- 45km
Pushpgiri - 80km
Gommat giri -60km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

मक्सी जी - ३६ कि मी
महावीर तपोभूमि -०५ कि मी
पुष्प गिरी - ८० कि मी
गोमट गिरी -६० कि मी

Nearest Main City:

Indore 45km

Ujjain-08km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

उज्जैन -०८कि मी 

इंदौर  ४५कि मी   




























































SHREE MAKSI PARSHVANATH JI, MADHYA PRADESH
 श्री मक्सी  पार्श्वनाथ जी   , मध्य प्रदेश

Tirthkshetra's Name:
Shri Dig. Jain Atishaya Kshetra Maksi Parshvanath
तीर्थ क्षेत्र का नाम:
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र मक्सी पार्श्वनाथ
Tirthkshetra's Address:
Shri Dig. Jain Atishaya Kshetra Maksi Parshvanath
Village-Maksi, District – Shajapur (Madhya Pradesh) Pin code465106 
तीर्थ क्षेत्र का पता :
श्री दिग . जैन अतिशय क्षेत्र मक्सी पार्श्वनाथ
ग्राम -मक्सी  ,जिला - शाजापुर   (मध्य प्रदेश )पिन  कोड - ४६५१०६  
Telephone No.
07363-233028 ,Mob : 09893473517
फ़ोन नंबर :
०७३६३ -२३३०२८ ,मोबाइल : ०९८९३४७३५१७
Facilities in Tirthkshetra
Room(Attach Bathroom):06 Room(Seprate Bathroom): 12
Hall :04(Capacity-60) Guest House: 00
Total Capacity:200 Canteen/Restaurant : Yes ,Paid
Dispensary : Yes  LIbrary: Yes

School : Yes (Gurukul)

STD PCO : Yes
क्षेत्र पर उपलब्ध सुबिधाए :
कमरा (स्नानघर संलग्): ०६
कमरा (अलग स्नानघर): १२
हॉल : ०४ (यात्री क्षमता- ६० )
अतिथि गृह : ००
कुल यात्री क्षमता : २०० भोजनालय :है , सशुल्क   
औषधालय: है पुस्तकालय : है 

विद्यालय :है ( गुरुकुल ) 

एसटीडी पीसीओ : है 
Transportation in Tirthkshetra
Railway Station :Maksi - 01 km
Bus stand –Maksi
Easiest Way: RaodWay-Buses Available from Indore,Ujjain ,Shajapur,Guna.
आवागमन के साधन:
रेलवे स्टेशन : मक्सी - ०१ कि. मी.
बस स्टैंड : मक्सी - ०१ कि. मी.
पहुचने का सरलतम मार्ग : सड़क मार्ग- इंदौर , उज्जैन , शाजापुर , गुना से बस उपलब्ध है 
Managing Committee :

Trust- Shri Dig Jain Atishay Kshetra Maksi Prabandh Karini Trust
President- Shri Pradeepkumar "Kasliwal" (0731-2530218)
Minister- Shri Rajkumar patodi (0731-2700702)
Manager- Shri Padam kumar Patodi (0731-33028 ,Mob : 09893473517 )

प्रबंध समिति :

ट्रस्ट : श्री  दिग  जैन  अतिशय  क्षेत्र  मक्सी  प्रबंध  कारिणी  समिति 
अध्यक्ष:  श्री   प्रदीपकुमार  "कासलीवाल " (०७३१ -२५३०२१८ ) 
मंत्री :      श्री  राजकुमार  पाटोदी  (०७३१ -२७००७०२ ) 
प्रबन्धक :
श्री  पदम कुमार  पाटोदी  ( ०७३६३ -२३३०२८  ,मोबाइल  : ०९८९३४७३५१७    ) 

About Kshetra :

No. Of Temple In Tirthkshetra : 01
Hill in tirth kshetra   : No
Shri Dig. Jain Atishaya Kshetra Maksi is an ancient place of pilgrimage. There are two temples here. First is big temple called as Bara Mandir, in which the principal deity are Lord Parsvanath, this is supposed to be more than 2500 Years old. According to archaeologists this temple is approximately 1000 Years old, built in the period of Parmars. Second is near the first temple with principal deity Lord Suparsvanath (The 7th Teerthankar), this was installed in V.S. 1899.
42 idols installed by Jeevraj Papariwal in V.S. 1548 are also here.
Both the temples are very beautiful existing in one premise.
  Atishaya (Miracle) : So many events of wonders are popular here about Maksi as rumors. It is said that an invader when came here to destroy, fall ill severely, at the end he bowed his head against the principal deity and he went from there after constructing five pinnacles on the main gate of temple. Thieves & dacoits became blind here. One inscription is also here which prohibits to any one for theft.
So many pilgrims come here every year for fulfillment of their desires. For Malwa & Bundel-khand, it is the tradition to give up hair first time in childhood here.

क्षेत्र का महत्व :

क्षेत्र पर मंदिरों की संख्या : ०१
क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं है
ऐतिहासिकता : यह क्षेत्र दिग. / श्वेताम्बर दोनों समुदायों द्वारा मान्य है | दिग. जैन लोग प्रात: ६ से ९ बजे तक पूजन करते है | दर्शन पर कोई प्रतिबन्ध नहीं है | मंदिर के चारो ओर ५२ देवरियाँ है | १ मंदिर भगवान् सुपार्श्वनाथ का है जो दिग. समाज का है |इसे छोटा मंदिर कहते है | कुछ साल पहले यहाँ जीर्णोधार एवं विकास कर भव्य मंदिर का रूप प्रदान किया गया है | जनश्रुति है कि बादशाह हुमायूँ ने ससैन्य इस मंदिर को नष्ट करना चाहा था तो ऐसा करने वाले अंधे हो गए थे | तब बादशाह ने क्षमा याचना की तब ही वो ओर उसके सैनिक वापस जा पाए | १ पार्श्वनाथ भगवान् का बड़ा मंदिर भी है |

वार्षिक मेला : रंग पंचमी पर 

Nearest Tirth & Visit Place :

Pushpgiri ji-65 km , Ujjain- 40km
Siddhavarkut - 80km , Gommat giri -80km

Nemavar - 145km

Banediya Ji -80km

Bajrang garh -208km

निकटतम तीर्थ क्षेत्र :

पुष्पगिरी जी -६५ कि मी , उज्जैन - ४०कि मी , सिद्ध वर कूट - ८०कि मी , गोम्माट गिरी -८०कि मी , नेमावर - १४५कि मी , बनेडिया जी -८०कि मी., बजरंग गढ़ -२०८कि मी

Nearest Main City:

Indore 70km ,Ujjain-40km Devas-35km

निकटतम प्रमुख क्षेत्र :

उज्जैन - ४०कि मी. , इंदौर- ७०कि मी , देवास - ३५ कि. मी.